Loading...

ADR PvPI APP DOWNLOAD करें, नकली और खराब दवाओं की घर बैठे शिकायत करें

दवा का दुष्प्रभाव होने पर अब मरीजों को अपनी शिकायत (COMPLAINT) दर्ज कराने के लिए परेशान नहीं होना पड़ेगा। दवाओं के दुष्प्रभाव पर नजर रखने के लिए भारत सरकार (GOVERNMENT OF INDIA) के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय (HEALTH AND FAMILY WELFARE MINISTRY) के फार्माकोविजिलेंस (PHARMACOVIGILANCE) कार्यक्रम के तहत इंडियन फार्माकोपिया कमीशन ने एडीआर मोबाइल एप (ADR MOBILE APP) की शुरुआत की है। इसकी डायरेक्ट लिंक सबसे नीचे दी गई है। 

एडवर्स ड्रग रिएक्शन फार्माकोविजिलेंस प्रोग्राम ऑफ इंडिया नाम के इस मोबाइल एप को डाउनलोड कर देश के किसी भी कोने का मरीज अपनी शिकायत इस पर कर सकता है। खास बात यह है कि इस मोबाइल एप पर किसी भी अस्पताल के चिकित्सक, नर्स, फार्मासिस्ट और स्वास्थ्य के क्षेत्र से जुड़ा कोई भी अधिकारी अपनी शिकायत कर सकता है। भारत सरकार का प्रमुख सेंटर होने के कारण इस मोबाइल एप पर आने वाली सभी शिकायतों पर गाजियाबाद के  इंडियन फार्माकोपिया कमीशन की ही टीम नजर करेगी।

पूरे देश भर के कोनों से अक्सर मरीजों को विभिन्न प्रकार की दवाओं से दुष्प्रभाव होने के मामले सामने आते रहते हैं। यही नहीं दवाओं के दुष्प्रभाव से होने वाली मौतों का आंकड़ा भी काफी अधिक है। यही वजह है कि  भारत सरकार ने ऐसी दवाओं पर रोक लगाने के लिए इंडियन फार्माकोपिया कमीशन के तहत एडवर्स ड्रग रिएक्शन मोबाइल एप की शुरुआत की है। 

इस मोबाइल एप पर देश के जिन जिलों से सबसे ज्यादा शिकायतें आएंगी या जिन दवाओं के दुष्प्रभाव की शिकायतें ज्यादा होंगी, उसकी जानकारी कमीशन केंद्र को देगा। इसके बाद इन दवाओं पर रोक लगाने से जुड़ा निर्णय ड्रग कंट्रोल जनरल ऑफ इंडिया की ओर से ही लिया जाएगा। 

ADR PvPI MOBILE APP पर शिकायत कैसे करें

मोबाइल एप डाउनलोड करने के बाद अपना नाम, मोबाइल नंबर, ई-मेल, अपना पता और अपने जिले का नाम और पिन कोड भरना होगा। सामान्य व्यक्तियों को शिकायत दर्ज कराने के लिए कंज्यूमर विकल्प को चुनना होगा। वहीं स्वास्थ्य के क्षेत्र से जुड़े लोगों को इस मोबाइल एप पर अपनी शिकायत दर्ज करने के लिए हेल्थकेयर प्रोफेशनल का विकल्प चुनना होगा। इसके बाद अपनी प्रारम्भिक जानकारी देनी होगी। इसके बाद शिकायतकर्ता जिसे दवा से दुष्प्रभाव हुआ है उसका नाम, साथ ही दवा के दुष्प्रभाव होने की तारीख और रिकवरी की भी जानकारी देनी होगी। अंत में जिस दवा से दुष्प्रभाव हुआ है उसका पूरा विवरण देना होगा। साथ ही दवा पैंकिंग की फोटो भी खींचकर इस पर अपलोड करनी होगी। साथ ही यह भी बताना होगा कि जिसे दवा का दुष्प्रभाव हुआ है वह जिंदा है या नहीं। 
ADR PvPI मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें