Loading...

कर्मचारियों के लिए सुप्रीम कोर्ट, केंद्र सरकार, रेल मंत्रालय और 7वां वेतनमान से गुडन्यूज | EMPLOYEE NEWS

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में लाखों सरकारी कर्मचारियों की बड़ी जीत हुई है। शीर्ष अदालत ने 30 जून को रिटायर होने वाले कर्मचारियों को एक जुलाई से मिलने वाले इंक्रीमेंट का हकदार माना है। सुप्रीम कोर्ट के इस आदेश से 30 जून को रिटायर हो चुके लाखों कर्मचारियों का फायदा होगा। 

ऑल इंडिया ऑडिट एंड अकाउंट्स एसोसिएशन के असिस्‍टेंट सेक्रेटरी जनरल हरीशंकर तिवारी ने ताया कि 7वें वेतन आयोग में व्‍यवस्‍था दी गई थी कि जिन कर्मचारियों ने एक साल की नौकरी पूरी कर ली है, वे 1 जुलाई को इंक्रीमेंट के हकदार हैं। सरकार पेंशनरों को इसका फायदा नहीं दे रही थी। सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में रिव्‍यू याचिका दाखिल की थी, जिसे खारिज कर दिया गया है।

पूर्व सैनिकों को भी बड़ा तोहफा

सरकार ने देश के पूर्व सैनिकों को भी बड़ा तोहफा दिया है। उनकी पेंशन में रिवीजन करने का फैसला किया है। इससे 2006 से पहले रिटायर जवानों और अफसों की पेंशन बढ़ जाएगी। ये वे पेंशनर हैं, जो 5th CPC (5वें वेतन आयोग) में 6500-10500 रुपए पे स्‍केल के लिए तहत पेंशन पा रहे थे। यह रिवीजन 1 जनवरी 2016 से माना जाएगा। केंद्रीय और राज्‍य कर्मचारियों के लिए 7वां वेतन आयोग भी इसी तारीख से लागू है।

KGMC और RML के कर्मचारियों को फायदा

यूपी में किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज (KGMC) और राम मनोहर लोहिया संस्‍थान (RML) के सैकड़ों डॉक्‍टरों और कर्मचारियों को सरकार ने 7वां वेतनमान के बराबर अलाउंस देने का प्रस्‍ताव मान लिया है। यूपी कैबिनेट की बैठक में तय हुआ कि जैसे पीजीआई के डॉक्टरों को 7वें वेतनमान के तहत भत्ते मिलते हैं, वैसे ही RML इंस्टिट्यूट और किंग जार्ज मेडिकल कॉलेज के सभी डॉक्‍टरों-कर्मचारियों को भी भत्ते मिलेंगे। कर्मचारी नेताओं का कहना है कि जो अलाउंस बढ़ाए गए हैं, उनमें ट्रैवल, वाशिंग और नर्सिंग अलाउंस शामिल है। वहीं डॉक्‍टरों को NPA मिलना शुरू किया जा सकता है। इससे टेक्निकल अफसर स्‍तर के कर्मचारी की सैलरी में 3 से 4 हजार रुपए महीने का अंतर आएगा।

कर्मचारियों का DA कितना बढ़ेगा

केंद्रीय कर्मचारियों को बढ़ा हुआ DA मिलने में कुछ समय लग सकता है। खबरों के अनुसार सरकार सितम्बर में DA को लेकर ऐलान कर सकती है। सरकार ने अब तक DA की घोषणा नहीं की है। फिलहाल DA 12 फीसदी की दर से तय किया गया है। कर्मचारियों को उम्मीद है कि इसको 5 फीसदी तक बढ़ाया जा सकता है। सरकार अभी यदि DA की घोषणा करती है तो सिर्फ जुलाई का एरियर मिलेगा। जबकि अगर सितम्बर या अक्टूबर में DA एनाउंस होता है तो कर्मचारियों को दो से तीन महीने का एरियर मिलेगा जो अच्छी रकम होगी।

रेल मंत्रालय ने लोको इंस्‍पेक्‍टर्स की ​वेतन विसंगति दूर की

रेल मंत्रालय (Railway Ministry) ने कर्मचारियों के वेतन में बड़ी खामी पकड़ी है। इससे उन कर्मचारियों का भला होगा जो 1 जनवरी 2016 के पहले प्रमोशन पाए हैं। ये कर्मचारी हैं चीफ लोको इंस्‍पेक्‍टर्स। दरअसल, इन्‍हें 1 जनवरी 2016 के बाद भर्ती हुए जूनियर अफसरों से भी कम सैलरी मिल रही थी। रेलवे मिनिस्‍ट्री ने इस वेतन खामी को दूर करने का आदेश दिया है। इसमें बताया गया है कि 1 जनवरी 2016 से पहले जिन लोको पायलट की तैनाती हुई थी। वे प्रमोशन पाने के बाद चीफ लोको इंस्‍पेक्‍टर बन गए थे लेकिन उनका वेतन 1 जनवरी 2016 के बाद भर्ती लोको पायलट, जिनका प्रमोशन हो चुका है, से कम है।