SAGAR से लापता 10 वर्षीय बालक का शव मिला, पुलिस नाकाम | MP NEWS

केसली/सागर। केसली से 3 दिन पहले लापता हुए बच्चे को तलाश पाने में पुलिस नाकाम रही। बालक का शव मिला है। बच्चे का शव घाना गांव के पास मिला। शव मिलने के बाद एसपी अमित सांघी भी मौके पर पहुंचे। लोगों में पुलिस के खिलाफ काफी गुस्सा है। इस मामले में भी पुलिस की लापरवाही स्पष्ट रूप से सामने आई है। 

मौत के बाद आया मुख्यमंत्री का बयान



बता दें कि केसली के वार्ड क्रमांक दो में रहने वाले घनश्याम रैकवार का पुत्र ऋषभ कुमार रविवार शाम 5 बजे से लापता था। अब इस बालक का शव मिलने से पूरे क्षेत्र में पुलिस के प्रति काफी गुस्सा है क्योंकि इस मामले में पुलिस की लापरवाही सामने आई थी। उधर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मासूम की हत्या की खबर पर दुख प्रकट करते हुए निर्देश जारी किए कि हत्यारों को जल्द से जल्द पकड़ा जाए।

खेल के मैदान से अपहरण किया गया था

गौरतलब है कि घनश्याम रैकवार का पुत्र 10 वर्षीय ऋषभ कुमार रविवार को अपने साथियों के साथ खेलने के लिए गया था। जहां से वह गुम हो गया था। उसके साथी शुभम रैकवार ने बताया था कि हम सभी खेल रहे थे। इस दौरान ऋषभ नल देखने चला गया फिर वहां से वापस नहीं आया। 

हेड कांस्टेबल ने रिपोर्ट नहीं लिखी, डांटकर भगा दिया


बच्चे के गुम होने के बाद से परिजन परेशान थे। वे उस दिन रिपोर्ट कराने गए लेकिन वहां पदस्थ प्रधान आरक्षक बालकिशन कोहली ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया और परिजनों से अभद्रता की थी। हालांकि बाद में एसपी ने प्रधान आरक्षक को निलंबित कर दिया था। पुलिस बच्चे की तलाश कर रही थी। तभी घाना गांव में इस बच्चे की लाश मिलने से सनसनी फैल गई।

नहीं लगा था सुराग

इस मामले को पुलिस ने गंभीरता से नहीं लिया क्योंकि 3 दिनों तक लापता बच्चे के बारे में कोई सुराग नहीं मिल पाया था। ऋषभ केसली की आस्था स्कूल में 5वीं कक्षा का छात्र था। अब पुलिस क्षेत्र में लगे सीसीटीवी कैमरों से सुराग तलाशने की कोशिश कर रही है। लाश मिलने के बाद पुलिस ने अपनी जांच तेज कर रही है।