पूर्व मंत्री अंतर सिंह आर्य पर दूध घोटाला का आरोप, लाखन सिंह सबूत जुटा रहे हैं | MP NEWS

भोपाल। शिवराज सिंह सरकार के पशुपालन मंत्री अंतर सिंह आर्य (MANTRI ANTAR SINGH ARYA) दूध घोटाले (DOODH GHOTALA) की जांच की जद में आ गए हैं। कमलनाथ सरकार के पशुपालन मंत्री लाखन सिंह का दावा है कि इस घोटाले के सारे सबूत जुटा रहे हैं और घोटाले में शामिल किसी भी व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा चाहे फिर वो पूर्व मंत्री हो या कोई वरिष्ठ अधिकारी। बता दें कि कांग्रेस ने विस चुनाव से पूर्व शिवराज सरकार पर कई घोटालों के आरोप लगाए थे पंरतु पिछले 7 महीनों में सरकार एक भी घोटाले की जांच पूरी नहीं कर पाई है। 

मध्य प्रदेश के पशुपालन मंत्री लाखन सिंह का दावा है कि शिवराज सरकार के दौरान दूध घोटाला भी किया गया। दूध में पानी मिलाया गया। फिलहाल वो अफसरों के साथ मिलकर काम में जुटे हैं। उनका दावा है कि घोटाले से जुड़ी जानकारी जुटाई जा रही है। तह तक पहुंचने के बाद दोषियों के ख़िलाफ कार्रवाई की जाएगी।

लाखन सिंह यादव ने इस बात का भी खुलासा किया कि शिवराज सरकार के दौरान जिस ट्रक में दूध आता था, उसमें एक लेयर चादर की होती थी। उसमें पानी भरा होता था। वो पानी दूध में मिलाया जाता था। 

लाखन सिंह यादव ने इस ओर भी इशारा किया है कि पूर्व पशुपालन मंत्री अंतरसिंह आर्य हों या फिर विभाग के अधिकारी, जो भी इस दूध घोटाले में शामिल होगा उसके ख़िलाफ कार्रवाई की जाएगी। उनके अनुसार शिवराज सरकार के तमाम विभागों में जमकर भ्रष्टाचार और घोटाला हुआ है।