Loading...

MITS इंजीनियर छात्र की संदिग्ध मौत, छतरपुर से पढ़ने ग्वालियर आया था | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। एमआईटीएस से पास आउट एक इंजीनियर छात्र (Engineer students) जिसे मंगलवार को नौकरी ज्वाइन करने जयपुर पहुंचना था लेकिन इंजीनियर को मौत (Death) सिथौली लेकर जा पहुंची। सिथौली स्टेशन के यार्ड पर लूपलाइन ट्रैक पर युवक की लाश दो भाग में मिलने से हडक़ंप मच गया। मामले की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंचे जीआरपी के जवानो ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये डेड हाउस भेजकर मर्ग कायम कर जांच शुरू कर परिजनों को सूचना दे दी है। 

सूचना मिलते ही परिजन भी ग्वालियर पहुंच गए। जीआरपी से मिली जानकारी के अनुसार अमित कुमार पाठक (Amit Kumar Pathak) पुत्र इंद्रेश कुमार पाठक (Indresh Kumar Pathak) उम्र 24 साल निवासी छतरपुर हाल मुकाम ग्वालियर में रह रहा था, अमित ने चार महीने पहले ही एमआईटीएस से डिग्री पूरी की थी। अमित ग्वालियर में अपने चाचा के लडक़े योगेश पाठक (Yogesh Pathak) के साथ महराजपुरा रोड स्थित पार्क विहार कालोनी में रह रहा था। 

मंगलवार को करना थी नौकरी ज्वाइन

इंजीनियर की डिग्री लेने के बाद अमित का जपुर स्थित किसी कंपनी के कैंपस में सिलेक्शन हुआ था। अमित को मंगलवार को जयपुर पहुंचकर नौकरी ज्वाइन करना थी। जयपुर जाने के लिये उसने इंटरसिटी एक्सप्रेस से रिजर्वेशन भी करा रखा था। अमित चचेरे भाई योगेश से जयपुर जाने की बात कह कर कमरे से स्टेशन के लिए निकला था। 

भाई को किया फोन
अमित जयपुर तो नहीं गया लेकिन उसने करीब एक बजे योगेश को मोबाइल पर फोन कर बताया कि वह जयपुर नहीं गया है उसे कमरे में पहुंचने में देर हो जाएगी तुम मेरा इंतजार मत करो और सो जाओ।

एक घंटे बाद GRP ने दी मौत की खबर

अमित से बात करने के बाद योगेश सो गया। एक घंटे बाद जीआरपी ग्वालियर ने योगेश को अमित की रेल से कटकर मौत होने की सूचना दी। जीआरपी से मिली सूचना पर जब योगेश ने अमित के मोबाइल पर फोन लगाया तो उसका मोबाइल बंद मिला। मिली जानकारी से परेसान योगेश सीधे सिथौल स्टेशन जा पहुंचा और शव की शिनाख्त अमित के रूप में कर परिजनों को सूचना दी।

दो टुकड़ों में मिला शव

मौके पर पहुंचे जीआरपी के प्रधान आरक्षक हरिनारायण ने बताया कि सिथौली स्टेशन की लूप लाइन पर एक युवक के शव पड़ा होने की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंच गए। मृतक का शरीर किसी ट्रेन की चपेट में आने के बाद दो भागों में बटा लूप लाइन पर पड़ा मिला। हरिनारायण ने बताया कि मामला संदिग्ध लग रहा है। मृतक की हत्या की गई है या फिर उसने आत्महत्या की है इसका पता जांच के बाद लग सकेगा। जीआरपी ने मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है।