Loading...

JABALPUR NEWS : पिता की हत्या के लिये बेटे ने 40 लाख की सुपारी दी

जबलपुर। करोड़ों की जमीन के लालच में 7 माह पूर्व बेटे ने 40 लाख रुपए की सुपारी देकर अपने ही पिता की हत्या कराई थी। पुलिस ने गिरफ्तार बेटे से पूछताछ के बाद यह राजफाश किया। हत्या में शामिल 5 में 4 आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वहीं मुख्य आरोपित अभी फरार है।

लालबर्रा के कनकी गांव में लेखराम ब्रम्हे की 9 दिसंबर 2018 को अज्ञात लोगों ने हत्या कर दी थी। इसकी जानकारी लेखराम के बेटे गजानंद ने पुलिस को दी थी। घटना के बाद घटनास्थल से शव बरामद कर पंचनामा कार्रवाई के बाद पोस्टमॉर्टम कराकर शव को पुलिस ने परिजन को सौंप दिया था। मुखबिर से सूचना और विवेचना के आधार पर पुलिस ने गजानंद को पिता की हत्या में शामिल होने के मामले में गिरफ्तार किया।

पूछताछ में पता चला कि गजानंद अपने पिता से जमीन का हिस्सा न देने से नाराज था और उसने गांव के विक्की पिता देवीचंद डहरवाल को पिता की हत्या करने के लिए 40 लाख रुपए की सुपारी यह कहकर दी थी कि करोड़ों की जमीन उसके नाम होने के बाद वह रकम दे देगा। इसके बाद विक्की ने अपने साथियों के साथ मिलकर लेखराम की गला घोटकर हत्या कर दी थी। इसके बाद से हत्या में लिप्त मुख्य आरोपित विक्की और उसके साथी फरार थे।

लालबर्रा थाना प्रभारी एमआर रोकड़े के नेतृत्व में फरार आरोपितों के बारे में सूचना एकत्र कर रही पुलिस को 19 जुलाई को सूचना मिलने के बाद रामपायली के सोनझरा निवासी आरोपित राजेश उर्फ राज पिता शिवलाल सोनवाने, जितेंद्र पिता अरूण सोनवाने, राजेन्द्र उर्फ भूरा पिता दिमाकचंद हनवत और कनकी निवासी कौशिक पिता बलराम मेश्राम को गिरफ्तार कर लिया। आरोपितों ने लेखराम की हत्या करना स्वीकार कर लिया है।मुख्य आरोपित विक्की फरार है। उसने ही रस्सी से गला घोटकर लेखराम की हत्या की थी। पुलिस ने वारदात में प्रयुक्त बाइक भी बरामद की है।