Loading...

पहले टीकाकरण के लिए वैक्सीन नहीं दी, अब सारे कर्मचारियों का वेतन रोक दिया | JABALPUR HEALTH DEPARTMENT

भोपाल। म.प्र.तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ के प्रान्तीय महामंत्री योगेन्द दुबे ने विज्ञप्ति जारी कर बताया कि जबलपुर जिले मे स्वास्थ्य कर्मचारियों एएनएम, एमपीडब्ल्यू व सुपरवाईजर का जुलाई माह के वेतन रोकने का विरोध किया है। 

संघ ने बताया कि विगत तीन माह से एम आर कि वैक्सीन कि सप्लाई नही कि जा रही है जिससे कर्मचारियो द्वारा बच्चों को टीके नही लगाए जा रहे व बैकलाग हो रहा है परन्तु मुख्य चिकित्सा एवं स्वा. अधिकारी जबलपुर ने अधिकारियों का पक्ष लेकर फील्ड के कर्मचारियों का वेतन रोकने सम्बधी आदेश जारी कर दिये जो सरासर कर्मचारियो के साथ अन्याय है। संघ ने कहा कि इस एक तरफा कार्यवाही को नही रोका गया तो आंदोलन व धरना प्रदर्शन हेतु बाध्य होगा जिसके लिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वा.अधिकारी जिम्मेदार होगे।

संघ ने आगे बताया कि जिलें के स्वास्थ्य कर्मचारी लगातार दस्तक अभियान मे गाँव गाँव मे घर घर जाकर विगत एक तारीख से बच्चों कि हीमोग्लोबिन जाँच, पोषण जाँच, हाथ धुलाई कि जानकारी एवं दस्त से बचाव कि जानकारी दे रहे हैं। अधिकारियों को अच्छा काम करके जिले को म.प्र. में दूसरे नबंर पर ला खड़ा किया है। ऐसे मे मानदेय न देकर उल्टा वेतन रोकना अधिकारी कि हिटलरशाही को प्रदर्शित कर रहा है। ऐसे मे आंदोलन के अलावा कोई रास्ता नही बचता।

संघ के जिला अध्यक्ष अवेन्द् राजपूत,अवधेश तिवारी राबर्ट मार्टिन,परशुराम तिवारी, जिया उर रहीम,असगर खान,कमलेश कोरी,वीरेन्द् पटेल,शहीर मुमताज,मीनूकान्त शर्मा,गिरीशकान्त मिश्रा ने वेतन शीघ्र निकालने कि मांग कि है।