Loading...

इंदौर नगर निगम की कार्रवाई के विरुद्ध दुकानें बंद कर लामबंद हुए व्यापारी | INDORE NEWS

इंदौर। स्मार्ट सिटी के तहत जयरामपुर कॉलोनी से गोराकुंड चौराहे तक सड़क चौडिकरण के विरोध में व्यापारी खुलकर सामने आ गए है। शुक्रवार को सीतलामाता बाजार के व्यापारियों ने अपनी दुकानें बंद कर सड़क पर निगम की कार्रवाई का विरोध किया। 

जयरामपुर कॉलोनी से गोराकुंड चौराहे तक की सड़क वर्तमान में 40 फीट चौड़ी है जिसे 60 फीट किया जाना है। इसके लिए निगम ने मार्किंग कर दुकानों और भवनों पर निशान भी लगा दिए है। मध्य इंदौर में आने वाली यह सड़क पूर्णत: व्यवसायिक क्षेत्र में आती है। 1.2 किलोमीटर लंबी इस सड़क पर सीतलामाता बाजार जैसा प्रमुख व्यापारिक क्षेत्र भी शामिल है। निगम द्वारा जो मार्किंग की गई है उसके अनुसार सड़क के दोनों और तीन से 5 फीट तक तोड़फोड़ की जानी है जिसका विरोध व्यापारियों द्वारा किया जा रहा है।

इस रोड़ पर 8 अति प्राचीन मंदिर और 10 धरोहर भी स्थित है जिन पर भी संकट मंडरा रहा है। इसके अलावा 250 से ज्यादा निर्माण प्रस्तावित चौड़ाई की जद में आ रहे है। आमजन और व्यापारियों का कहना है कि यह मार्ग शहर की पुरानी पहचान में शामिल है। यहां स्थित कई निर्माण तो 125 साल पुराने है जो ऐतिहासिक महत्व के साथ ही शहर की पहचान भी है। नगर निगम को इन ऐतिहासिक भवनों को तोड़ने के बजाय इन्हें सहेजने पर विचार करना चाहिए।