Loading...

बैटमार आकाश की जमानत के जश्न में पुलिस भी शामिल थी | INDORE NEWS

भोपाल। भाजपा विधायक आकाश विजयवर्गीय की बल्लेबाजी से लेकर जमानत तक तमाम विवाद हुए हैं। कुछ तत्समय खुल गए, कुछ वक्त के साथ सामने आ रहे हैं। न्यूज ऐजेंसी एएनआई ने कुछ फोटो जारी किए हैं। बताया गया है कि आकाश विजयवर्गीय की जमानत के अवसर पर जो जश्न मनाया गया उसमें कुछ पुलिस अधिकारी भी शामिल हुए एवं उन्होंने मिठाई खाई। 

तो इसमें आपत्ति क्या है


विधायक आकाश विजयवर्गीय पर सरकारी कर्मचारी को सरेआम पीटने एवं सरकारी काम में बाधा डालने का आरोप है। इसी आरोप में उन्हे गिरफ्तार किया गया। आकाश विजयवर्गीय के समर्थकों ने लगातार यह जताने की कोशिश की कि सरकारी कर्मचारी को बैट मारने उचित था। पुलिस अधिकारी या कर्मचारी ऑन ड्यूटी ना तो किसी जश्न में शामिल हो सकते हैं और ना ही इस तरह मिठाई या प्रसाद को स्वीकार कर सकते हैं। यह कृत्य पक्षपात की श्रेणी में आता है। 

इस मामले में राजनीति भी है


विधायक आकाश विजयवर्गीय की बैट मारने तक की घटना क्रिया की प्रतिक्रिया थी परंतु उसके बाद इस मामले में बड़े स्तर पर राजनीति हुई। ना केवल कमलनाथ सरकार बल्कि भाजपा के कई दिग्गज नेता भी इस खेल में शामिल थे। नगर निगम ने उन तमाम कर्मचारियों को बर्खास्त कर दिया था जिन्होंने आकाश विजयवर्गीय का समर्थन किया। इस मामले में आकाश विजयवर्गीय का समर्थन करने से तात्पर्य निकाला गया सरकार का विरोध करना।