Loading...

पुलिस अधिकारी घर में घुस आया, बोला: तेरी बहन से संबंध बनाने दे नहीं तो गोली मार दूंगा | INDORE NEWS

इंदौर। वर्दी को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है। सब इंस्पेक्टर राकेश कुमार नशे की हालत में, वर्दी पहन सरकारी पिस्तौल लेकर एक घर में घुस गया। युवक को बेरहमी से पीटा। उसने डिमांड रखी कि या तो तेरी बहन से संबंध बनाने दे या फिर 20 हजार रुपए दे। नहीं तो 6 की 6 गोलियां सिर में घुसा दूंगा। युवक ने डायल 100 पर कॉल करके मदद मांगी। पुलिस ने एसआई को पकड़ा, मेडीकल कराया परंतु मामला दर्ज नहीं किया। विभागीय जांच की बात की जा रही है। 

क्या घटनाक्रम हुआ

घटना रविवार रात करीब 2 बजे लसूड़िया थाना क्षेत्र के गोल्डन पॉम सिटी में हुई। आरोपित एसआई राकेश कुमार विजय नगर थाने में पदस्थ है। वह सेना में नौकरी करने के बाद पुलिस में भर्ती हुआ है। फरियादी देवल सिंह बघेल ने उसके विरुद्ध शिकायत दर्ज कराई है। देवल मूलतः रीवा का रहने वाला है और किराए का फ्लैट लेकर स्कीम-78 स्थित कॉलेज से बीबीए कर रहा है। उसका चचेरा भाई योगेश विश्नोई भी उसके साथ ही रहता है और यूपीपीएससी की तैयारी कर रहा है। रविवार को उसकी बहन की तबीयत खराब थी। वह एमबीए कर रही है। बीमार होने के कारण छात्रा अपने भाई योगेश के साथ देवल के फ्लैट पर आई थी।

बहन को कॉलगर्ल बताया

एसआई राकेश इसी इमारत में देवल के ऊपर वाले फ्लैट में रहता है। उसने दोनों को लिफ्ट में जाते देख लिया और फ्लैट में आ धमका। देवल से कहा तू मेरे छोटे भाई जैसा है। मैं छोटा-मोटा पुलिसवाला नहीं बल्कि थानेदार हूं। उसने इधर-उधर झांका और कहा कमरे में कौन सो रहा है। देवल ने कहा मेरी बहन आई है। एसआई ने कहा झूठ मत बोल। तुम कॉलगर्ल लेकर आए हो। वह शारीरिक संबंध बनाने पर अड़ गया। देवल ने समझाया तो कहा मैं जांच करूंगा। उसने युवती से भी पूछताछ की। उसने कहा वह उनकी बहन है और चाहो तो माता-पिता से बात करवा देती हूं।

पैसा या लड़की दोनों में एक तो चाहिए

एसआई राकेश ने देवल से कहा कि मुझे सिगरेट चाहिए। देवल ने कहा कि मैं सिगरेट नहीं पीता पर आपके लिए विजय नगर से ला सकता हूं। एसआई ने कहा 20 हजार रुपए दे दे और मामला रफादफा कर ले। मैं एसआई हूं। एक कॉल पर पुलिस आ जाएगी। देवल ने रुपए देने से इनकार किया तो कहा मुझे पैसा या लड़की दोनों में एक तो चाहिए। उसने बेरहमी से पिटाई शुरू कर दी। देवल ने एसआई के सिर पर ईंट मारी और डायल-100 को कॉल किया। सूचना पर लसूड़िया पुलिस मौके पर पहुंच गई। उस वक्त एसआई राकेश वर्दी में था और उसके पास सरकारी पिस्टल भी थी। उसने लिफ्ट में ही देवल से कहा कि तेरे सिर में छह गोलियां मारूंगा। वह बाल पकड़कर लिफ्ट में धक्का देने लगा।

पूछताछ में बोला: शिकायत मिली थी, जांच कर रहा था

सूचना मिलने पर गश्त करने वाले अफसर थाने पहुंच गए। देवल से शिकायत लेकर एसआई का मेडिकल परीक्षण कराया। एसआई ने बचाव में आवेदन लिखा और कहा कि छात्रों के बारे में शिकायत मिलती थी। रात में संदिग्ध अवस्था में दिखने पर सख्ती से पूछताछ की। टीआई संतोष कुमार दूधी के मुताबिक, एसआई का क्षेत्र अधिकार ही नहीं है। उसके खिलाफ रिपोर्ट बनाकर अफसरों को भेज दी है।