परिजन की डांट से गुस्सा होकर नाबालिग लड़की ने छोड़ा घर, अज्ञात महिला ने जबरन शादी करा दी | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र में माता मंदिर के पास से दो माह पूर्व लापता हुई किशोरी को पुलिस ने बुलंदशहर से बरामद कर लिया। किशोरी 10वीं की परीक्षा में पूरक आने के बाद परिजन की डांट से गुस्सा होकर कोचिंग से लापता हो गई थी। किशोरी का अपहरण का संदेह परिजन ने पड़ोसी युवक पर जताया था, इसी युवक को वीडियो कॉल किए जाने पर युवक ने पुलिस को सूचना देकर किशोरी को बरामद कराया।  
  
थाना प्रभारी वायएस तोमर ने बताया कि 25 मई को किशोरी कोचिंग के रास्ते से गायब हो गई थी। किशोरी ने बुलंदशहर से पकड़े जाने के बाद बताया कि वह परिजन की डांट के कारण ट्रेन से झांसी चली गई थी। झांसी स्टेशन पर सीढ़ियों‌ पर बैठे हुए किशोरी को एक महिला मिली यह महिला उसे अपने घर ले गई। लगभग 15 दिन तक महिला ने उसे अपने साथ रखा और फिर किशोरी के मना करने पर भी उसकी शादी बुलंदशहर के लीलू जाट से करा दी। 

इधर किशोरी के परिजन पड़ोसी युवक पर संदेह कर रहे थे और पुलिस युवक व उसके परिजन से पूछताछ कर रही थी। एक बार किशोरी ने युवक से बात की भी लेकिन उसकी शादी कराए जाने के बाद लीलू की मां उसकी निगरानी करती थी। बताया गया है कि विगत सप्ताह लीलू का फोन घर पर छूट गया और किशोरी ने अपने पड़ोसी दोस्त को उससे वीडियो कॉल किया। इस कॉल की जानकारी युवक ने पुलिस को दी और पुलिस ने कॉल से किशोरी के फोन की लोकेशन की पड़ताल कर उसे बुलंदशहर से बरामद कर लिया। पुलिस ने लीलू को भी गिरफ्तार कर लिया है।