Loading...

चम्बल के बीहड़ों में डाकू गिरोह और पुलिस के बीच मुठभेड़ | MP NEWS

मुरैना। मध्य प्रदेश के मुरैना में पुलिस और डकैतो के बीच मुठभेड़ जारी है। राजस्थान के इनामी डकैतों को मुरैना और राजस्थान की पुलिस ने बीहड़ में घेर लिया। एमपी और राजस्थान पुलिस संयुक्त रूप से एनकाउंटर को अंजाम दे रही है। धौलपुर एसपी अजय सिंह को सूचना मिली थी कि बदमाश चंबल के बीहड़ में छुपे हैं। जिसकी सूचना के बाद मध्य प्रदेश पुलिस राजस्थान पुलिस के साथ मिलकर डकैतों का सर्चिग अभियान शुरु हुआ। इस दौरान पुलिस की डकैतों के साथ मुठभेड़ हुई, मुठभेड़ में धौलपुर पुलिस ने 2 डकैत को गिरफ्तार कर लिया है।

मुरैना एसपी ने बीहड़ में 4 और डकैतों के छुपे होने की बात कही है। राजस्थान के सोनेराम गूर्जर और भारत के गिरोह के छुपे होने की सूचना पुलिस को मिली थी। भारत गैंग पर 25 हजार और सोनेराम पर 3 हजार हजार का इनाम है। गिरोह में सभी इनामी हैं। खास बात यह है की वे दोनों पिता पुत्र हैं। गिरोह में कुल 6 सदस्य हैं। गिरोह की जब सर्चिंग बीहड़ में की जा रही थी तो बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग की। जिसके जवाब में पुलिस ने भी फायरिंग की। इस ऑपरेशन में सोनेराम व दो अन्य लोगो सहित तीन बदमाश गिरफ्तार किए गए हैं। जबकि 3 भागने में सफल रहे। जिनकी तलाश जारी है।

इस मामले में मुरैना एसपी डॉक्टर असित यादव का कहना है कि राजस्थान के धौलपुर एसपी से बात होने के बाद यह सर्च ऑपरेशन चलाया गया है। धौलपुर पुलिस ने 2 डकैतों को गिरफ्तार किया है, जबकि और 4 के होने की आशंका है। वहीं राजस्थान के धौलपुर एसपी अजय सिंह का कहना है कि राजस्थान पुलिस ने डकैतों के खिलाफ सर्च अभियान चलाया है। जिसके तहत मुरैना जिले के देवगढ थाना क्षेत्र में सती माता मंदिर के पास बीहड़ में एमपी पुलिस के साथ संयुक्त रूप से यह ऑपरेशन जारी है। एसपी अजय सिंह ने दो नामी रामविलास और भरत गैंग के शामिल होने की बात कही।