Loading...

बुरी खबर: सरकारी बचत योजनाओं में ब्याज दर घटाई | GOVERNMENT SAVING SCHEME INTEREST RATE JUL-SEP 2019

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी सरकार के दूसरी बार सत्ता में आने के बाद उम्मीद थी कि मिडिल क्लास की सबसे पसंदीदा छोटी बचत योजनाओं में ब्याजदर बढ़ाया जाएगा परंतु सरकार ने उल्टा घटा दिया है। सरकार ने जुलाई-सितंबर तिमाही के लिए छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों में 0.10 फीसदी की कटौती की है। इसका मतलब है आपको कम मुनाफा मिलेगा। आपको बता दें कि सरकार स्मॉल सेविंग्स स्कीम (Small Savings Scheme छोटी बचत योजनाओं) पर हर तिमाही में ब्याज दर (Interest rate इंटरेस्ट रेट) तय करती हैं। यह सरकार पर निर्भर करता है कि वह कब इसमें बदलाव करे। ।

क्यों कम हुई ब्याज दरें

एक्सपर्ट्स का कहना है कि छोटी बचत योजनाओं पर सरकार ब्याज दरों में कटौती कर सकती हैं। इस बात की आशंका पहले से थी क्योंकि ब्याज दरें सरकारी बॉन्ड की दरों में बदलाव पर निर्भर करता है। सरकार को उम्मीद है कि छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों में कटौती से अब बैंक अपनी दरों को कम करेंगे। बैंक छोटी बचत योजनाओं में अधिक ब्याज दर का हवाला देते हुए कर्ज़ की दरें घटाने में संकोच कर रहे थी।

छोटी बचत योजनाओं की नई ब्याज दरें

>> पब्लिक प्रोविडेंट फंड (Public Provident Fund (PPF interest Rate) : 7.90%
>> सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Scheme Interest Rate) : 8.4%
>> वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (Senior Citizens Savings Scheme Interest Rate): 8.6%
>> राष्ट्रीय बचत पत्र (National Savings Certificate (NSC) Interest Rate) : 7.9%
>> किसान विकास पत्र (Kisan Vikas Patra (KVP) Interest Rate) : 7.6%