बी विजय दत्ता: शिवराज के प्रिय, सिंधिया विरोधी, भोपाल कलेक्टर | BHOPAL NEWS

भोपाल। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सुदाम खाड़े को हटाकर बी विजय दत्ता को भोपाल कलेक्टर बना दिया है। हालांकि फिलहाल यह प्रभार है, लेकिन कब यह प्रभार पूरे अधिकार में बदल जाए कहा नहीं जा सकता। बी विजय दत्ता 2011 बैच के अधिकारी है। छोटे से कार्यकाल में बी विजय दत्ता सत्ता के काफी नजदीक पहुंच गए। पूर्व सीएम शिवराज सिंह की गुडबुक में इनका नाम दर्ज था। कमलनाथ ने सीएम बनते ही इन्हे हटा दिया था। फिर भोपाल नगर निगम कमिश्नर बना दिया गया और अब भोपाल कलेक्टर पद का प्रभार भी दे दिया गया है। 

बी विजय दत्ता को अप्रैल में गुना कलेक्टर बनाकर भेजा था दिसम्बर में हटा दिया गया था। मंत्री पीसी शर्मा के नजदीकी हैं, महापौर आलोक शर्मा से पटरी नहीं बैठती। पीसी शर्मा के लिए हाल ही में एक विशेष बैठक का आयोजन किया था। जिसका महापौर ने विरोध किया था। 

मई 2019 में कांग्रेस नेता मुकेश पंथी के साथ आई भीड़ ने अभद्रता की थी। गनर को पीटा दिया था। शिवराज सिंह के भी पसंदीदा अफसर रहे हैं। उन्हे खुश करने के लिए जुलाई 2018 में गुना ब्यावरा फोरलेन के शुभारंभ समारोह में तत्कालीन सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को आमंत्रित ही नहीं किया था।