SDOP हत्या: बेटी का फेसबुक फ्रेंड और कांग्रेस नेता निकला हत्यारोपी | BHOPAL NEWS

भोपाल। अवधपुरी इलाके में डीएसपी जीएल अहिरवार (DSP GL AHIRWAR MURDER) हत्याकांड के मामले में आरोपी को विदिशा से गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी का नाम हिमांशु सिंह (HIMANSHU PRATAP SINGH) बताया गया है। पता चला है कि हिमांशु सिंह डीएसपी जीएल अ​हिरवार की बेटी डॉ. अनिता अहिरवार का फेसबुक फ्रेंड है एवं घर भी आता जाता था। हिमांशु ने अनीता के सामने ही उसके पिता को गोली मारी थी। हिंमाशु ने खुद को होशंगाबाद में कांग्रेस का सचिव बताया है। 

पुलिस सूत्रों ने बताया कि डीएसपी गोरेलाल अहिरवार की पिछले महीने ही बाइपास सर्जरी हुई थी। जिस कारण वे अवकाश पर चल रहे थे। बुधवार शाम करीब 7:15 बजे हिमांशु सिंह उनके घर पहुंचा था। हिमांशु का उनके घर आना-जाना था। हिमांशु और अहिरवार बातचीत कर रहे थे, तभी उनके बीच विवाद हाेने लगा। हिमांशु के तेज आवाज में बात करने पर अहिरवार की बेटी डाॅ. अनीता चौधरी ने उसे टोका और जाने के लिए कहा। इसके बाद हिमांशु बाहर गया और तुरंत लौटकर अहिरवार के पेट पर गोली चला दी। इसके बाद वह फरार हो गया। घर पर अहिरवार के अलावा उनकी बेटी डाॅ. अनीता और बहू राखी मौजूद थीं।

अहिरवार को गोली लगते ही घर में चीख-पुकार मच गई। राखी ने अपने पति संतोष चौधरी को फोन कर बुलाया। परिजन उन्हें नर्मदा अस्पताल ले गए। जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। अहिरवार भोपाल के कई थानों में एसआई व थाना प्रभारी रहे हैं।

हिमांशु की मां हवलदार : 
संतोष ने बताया कि अनीता मंडला से अपने पति के साथ पिता को देखने भोपाल आई है। हिमांशु के साथ पिता का क्या विवाद हुआ, कुछ कहा नहीं जा सकता। हिमांशु की मां अर्चना सिंह पुलिस में हवलदार हैं। वे नेहरू नगर पुलिस लाइन में रहती हैं।

प्रॉपर्टी में हिस्सा चाहता था हिमांशु
पुलिस सूत्रों का कहना है कि भोपाल महिला आरक्षक के पुत्र हिमांशु की मां डीएसपी जीएल अहिरवार के संबंध थे। हिमांशू डीएसपी की संपत्ति में हिस्सा चाहता था। इसी बात को लेकर विवाद हो रहा था।