Loading...

प्रज्ञा ठाकुर: मालेगांव मामले में हर सप्ताह हाजरी देनी होगी | NATIONAL NEWS

मुंबई। एनआईए की स्पेशल कोर्ट ने 2008 में हुए मालेगांव धमाके के सभी आरोपियों को सप्ताह में एक बार हाजिरी लगाने को कहा है। आरोपियों में प्रज्ञा ठाकुर, लेफ्टिनेंट कर्नल प्रसाद पुरोहित और अन्य शामिल हैं। बताया जा रहा है कि उपरोक्त सभी आरोपी मालेगांव ब्लास्ट मामले की सुनवाई के दौरान उपस्थित नहीं हो रहे थे। इसी से नाराज होकर कोर्ट ने यह फैला सुनाया। 

20 मई को मुंबई में हाजिर होना है

प्रज्ञा ठाकुर समेत सभी आरोपियों को अब 20 मई को मु्ंबई में एनआईए की स्पेशल कोर्ट में हाजिर होना है जबकि 23 मई को लोकसभा चुनाव की मतगणना है। इस बीच अनुशासन समिति ने यदि नोटिस जारी किया तो उसका जवाब भी देना है। संभव है दिल्ली भी जाना पड़े। कोर्ट में पेश नहीं हुईं तो वारंट जारी हो जाएगा। अनुशासन समिति के सामने हाजिर नहीं हुईं तो पार्टी से निष्कासित किया जा सकता है और मतगणना के समय उपस्थित नहीं रहीं तो...बताने की जरूरत नहीं कि संकट बड़ा है और दरवाजे पर आ खड़ा है। 

गांधी के अपमान से अमित शाह नाराज

अमित शाह ने शुक्रवार को ट्वीट किया, ‘‘पिछले 2 दिनों में अनंत कुमार हेगड़े (केंद्रीय मंत्री), साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर (भोपाल से उम्मीदवार) और नलिन कटील (दक्षिण कन्नड़ सीट से सांसद) के जो बयान आए हैं, वे उनके निजी बयान हैं। उन बयानों से भारतीय जनता पार्टी का कोई संबंध नहीं है। इन लोगों ने अपने बयान वापस लिए और माफी भी मांगी। 

फिर भी सार्वजनिक जीवन और भाजपा की गरिमा और विचारधारा के विपरीत इन बयानों को पार्टी ने गंभीरता से लिया है। तीनों बयानों को अनुशासन समिति के पास भेजने का फैसला किया गया है। समिति तीनों नेताओं से जवाब मांगकर पार्टी को 10 दिन में रिपोर्ट देगी।’