Advertisement

MY PRAYER APP DOWNLOAD करें, रोजे की नमाज में खलल से बचें



यदि आप चाहते हैं कि रमजान के महीने में रोजे की नमाज में खलल ना पड़े और आपके आसपास वाले लोग आपको टोके नहीं तो यह मोबाइल एप डाउनलोड कर लें। दरअसल, नमाज के वक्त मोबाइल को साइलेंट करना या बंद करना अक्सर लोग भूल ही जाते हैं। यह एप आपकी सहायता करेगा और मस्जिद में प्रवेश करते ही आपका मोबाइल साइलेंट कर देगा इतना ही नहीं आपकी नमाज पूरी होने के बाद यह अपने आप रिगिंग और वाइब्रेटिंग मोड पर चला जाएगा, जैसा कि यह पहले था। 

अब तक 50 लाख से ज्यादा डाउनलोड 

रमजान मुबारक के मौके पर 50 लाख से ज्यादा लोगों ने इस एप को डाउनलोड भी कर लिया है। जामा मस्जिद कमेटी के सचिव नसीम अहमद और दून के युवा दानिश कुरैशी कहते हैं कि आज के टेक्नोलॉजी के जमाने में हर किसी के पास एंड्रायड मोबाइल है। कई बार लोग मस्जिद में भी मोबाइल बंद या साइलेंट करना भूल जाते हैं। इससे नमाज में खलल पैदा होती है। माई प्रेयर एप काफी मददगार है। इससे नमाज में मोबाइल की घंटी नहीं बजती। 

सहरी, इफ्तार का वक्त, कुरान शरीफ का भी एप 

रमजान के मौके पर कई एप युवाओं की खास पसंद बने हैं। इनमें अलकुरआन -उल करीम, जिसमें कुरान पाक की सभी आयत टेक्स्ट और ऑडियो वर्जन में मौजूद हैं। रमजान टाइमिंग, जिसमें सहरी और इफ्तार की सही टाइमिंग है। साथ ही यह आपको वक्त पर अलर्ट भी करता है। 

रमजान के लिए ये भी एप 

रमजान ट्रेकर: रमजान के महीने में आईओएस फ्री एप गाइड के रूप में काम करता है। यह हमें पांचों वक्त की नमाज और सहरी-इफ्तार के बारे में अपडेट करेगा। 

रमजानन टाइम्स: उस शहर के हिसाब से सेहरी-इफ्तार का टाइम बताएगा। इसके अलावा इसमें नमाज का समय, इस्लामिक कैलेंडर, रमजान रेसिपीज, अजान अलर्ट और रमजान कैलेंडर मुख्य है। ये सभी रोजेदारों के लिए बड़े काम के है। इसके अलावा दुआ, कलमा और तसबीह काउंटर भी है।
MY PRAYER MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए यहां क्लिक करें