Loading...

सिंधिया के हमले का बदला लिया जाएगा: मायावती का ऐलान | MP NEWS

भोपाल। अब सीएम कमलनाथ (CM KAMAL NATH) को चिंतित हो जाने की जरूरत है और ज्योतिरादित्य सिंधिया (JYOTIRADITYA SCINDIA) के माथे पर दाग भी लग सकता है। मुरैना (MORENA) में बसपा सुप्रीमो मायावती (BSP CHIEF MAYAWATI) ने ऐलान कर दिया है कि गुना लोकसभा सीट पर जो हुआ, कांग्रेस को उसका परिणाम भुगतना होगा। बता दें कि मध्यप्रदेश में बसपा कमलनाथ सरकार को समर्थन दे रही है। यदि बसपा ने समर्थन वापस लिया तो सरकार पर दवाब बढ़ जाएगा। 

मायावती ने कहा कि गुना-शिवपुरी संसदीय क्षेत्र में कांग्रेस ने जो बसपा के साथ किया है उसे उसकी भारी कीमत चुकानी पड़ेगी। सरकारी मिशनरी का दुरपयोग कर गुना से हमारे प्रत्याशी को डरा-धमकाकर कांग्रेस में शामिल करा लिया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस द्वारा देशभर में खड़े बसपा प्रत्याशियों के खिलाफ यही रवैया अपनाए हुए है। जल्द ही कांग्रेस को इसके परिणाम भुगतने पड़ेंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने कभी दलित समाज की उन्नती की पहल ठीक से नहीं की। वो नहीं चाहती थी कि बाबा साहेब आंबेडकर को भारत रत्न मिले। 

मायवती ने पहले भी दी थी घमकी

30 अप्रैल को बसपा प्रमुख मायावती ने मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार को समर्थन जारी रखने पर पुनर्विचार की धमकी दी थी। उन्होंने ट्वीट कर आरोप लगाया था कि सरकारी मशीनरी के दुरुपयोग मामले में कांग्रेस भी बीजेपी से कम नहीं है। मध्य प्रदेश के गुना लोकसभा सीट पर बीएसपी उम्मीदवार को कांग्रेस ने डरा-धमकाकर जबर्दस्ती बैठा दिया है। मायावती ने आगे लिखा है- बीएसपी इस सीट पर अपने सिंबल पर ही लड़कर इसका जवाब देगी। कांग्रेस सरकार को समर्थन जारी रखने पर भी पुनर्विचार करेगी। 

गुना का प्रत्याशी काग्रेस में हुआ था शामिल: 

गुना-शिवपुरी लोकसभा सीट से कांग्रेस उम्मीदवार ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ बीएसपी उम्मीदवार लोकेंद्र सिंह राजपूत खड़े थे। लेकिन बाद में वह कांग्रेस में शामिल हो गए। इससे मायावती नाराज हैं और उन्होंने अपनी यह नाराजगी खुलेआम जाहिर की थी। चार मई को मायावती गुना-शिवपुरी में सभा थी, जिसे बाद में निरस्त कर दिया गया।