Loading...

DIGVIJAY SINGH: मोहल्ले वालों ने भी वोट नहीं दिए, नौकरशाहों भी ने प्रज्ञा ठाकुर को चुना | MP NEWS

भोपाल। लोकसभा चुनाव 2019 के परिणाम चौंकाने वाले हैं। जैसे जैसे डाटा की समीक्षा की जा रही है आश्चर्य बढ़ता जा रहा है। भोपाल लोकसभा सीट पर 2 चौंकाने वाली बातें सामने आईं हैं। पहली: दिग्विजय सिहं को उनके मोहल्ले तक में वोट नहीं मिले और दूसरी सबसे चौंकाने वाली बात यह कि भोपाल में रह रहे नौकरशाहों ने भी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को वोट दिया। 

प्रज्ञा ठाकुर अपने मोहल्ले में जीतीं, दिग्विजय को उनके मोहल्ले में हराया

पत्रकार श्री दीपक विश्वकर्मा की रिपोर्ट के अनुसार राघौगढ़ विधानसभा क्षेत्र से सटे बैरसिया विधानसभा क्षेत्र के गांव सूरजपुर में भी साध्वी प्रज्ञा के पक्ष में एकतरफा वोट पड़े हैं। यहां दिग्विजय को 207 तो साध्वी को 427 वोट मिले है। यही नहीं, पिछले दो महीने से भोपाल की दिग्विजय सिंह जिस कॉलोनी आम्रपाली में रह रहे है, वहां भी वे नहीं जीत पाए। उन्हें 144 वोट मिले हैं, जबकि प्रज्ञा को यहां से 323 वोट मिले हैं। दूसरी तरफ रिवेरा जहां साध्वी प्रज्ञा ठाकुर रह रही है। वहां प्रज्ञा को 58 वोट मिले हैं जबकि दिग्विजय को महज 21 वोट।

जीएसटी की बाद भी व्यापारी भाजपा के साथ

नोटबंदी और जीएसटी से हुई तमाम दिक्कतों के बावजूद पुराने शहर के व्यापारियों के वोट भाजपा के पक्ष में गए हैं। इसकी एक वजह भोपाल में हिंदुत्व का मुद्दा हावी होना भी है। नूर महल, सिंधी मार्केट, लखेरापुरा, छोला में दिग्विजय को 90 वोट भी नहीं मिल पाए।

दिग्विजय सिंह को 2 बूथ पर बंपर जीत मिली 

इब्राहिमगंज, कांग्रेस नगर में साध्वी को सिर्फ 3-3 वोट मिले हैं। इब्राहिमगंज में दिग्विजय को 588 और साध्वी को 3 मिले। वहीं कांग्रेस नगर में कांग्रेस को 418 और साध्वी को 3 वोट ही मिल सके।

नौकरशाहों ने भी प्रज्ञा ठाकुर को वोट दिया

इधर, दक्षिण पश्चिम क्षेत्र में 256, 257 और 258 मतदान केंद्र चार ईमली जैसे पॉश क्षेत्र का है। यहां प्रदेश के आईएएस और आईपीएस अफसर रहते हैं। खास बात यह है कि इन अफसरों ने इस बार जमकर वोटिंग की। यहां से भी साध्वी प्रज्ञा के पक्ष में एकतरफा वोटिंग हुई है। चार ईमली के बूथ 256 में दिग्विजय को 86 तो साध्वी को 271, बूथ क्रमांक 257 में दिग्विजय को 64 तो साध्वी को 177 और बूथ क्रमांक 258 में कांग्रेस को 141 तो भाजपा को 412 वोट मिले हैं।

नरेला: 14 हजार में से 11 वोट प्रज्ञा ठाकुर को

वार्ड नंबर 33 में सबसे ज्यादा वोटों से साध्वी को विजय मिली। इस वार्ड में 21366 मतदाता है इसमें से 14041 ने वोट किया। इसमें से भाजपा को 11136 तो कांगे्रस को महज 2517 वोट ही मिले है।

गोविंदपुराः दिग्विजय सिंह को मिले 62 वोट

नीली ड्रेस पहने पूरे देश में रातों-रात फेमस हुई पीठासीन के मतदान केंद्र क्रमांक 100 में दिग्विजय सिंह को महज 62 वोट ही मिले। जबकि साध्वी को 253 वोट इस बूथ पर मिले है।

हुजूरः का एक भी बूथ नहीं जीत पाए

हुजूर विधानसभा क्षेत्र में 366 बूथ हैं। हैरत की बात यह है कि हुजूर विधानसभा क्षेत्र के किसी भी बूथ में कांग्रेस को भाजपा से ज्यादा वोट नहीं मिले।

राम मंदिर के लिए जमीन का दान भी वोट नहीं दिला पाया

दिग्विजय सिंह ने गुरु बख्श की तलैया स्थित राम मंदिर के विस्तार के लिए घोषणा की थी कि कांग्रेस अपनी जमीन राम मंदिर के लिए देना चाहती है। इस घोषणा का भी दिग्विजय को फायदा नहीं मिला। यहां कुल 560 वोटों में से सिर्फ 38 वोट दिग्विजय को मिले, वहीं साध्वी प्रज्ञा के खाते में 513 वोट गए।