Loading...

प्रज्ञा ठाकुर रात 9 बजे स्ट्रांग रूम स्ट्रांग रूम पहुंची, गुस्से में थीं, आवाज नहीं निकल रही थी | BHOPAL NEWS

भोपाल। भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर रात 9 बजे अचानक स्ट्रांग रूम पहुंच गईं। उन्होंने अधिकारियों के साथ स्ट्रांग रूम का निरीक्षण किया। जब वो बाहर निकलीं तो गुस्से में थीं। उनकी आवाज नहीं निकल पा रही थी। बता दें कि उनकी तबीयत खराब है। मतदान के तत्काल बाद से वो पंचकर्म करवा रहीं हैं। 

भाजपा नेता उमाशंकर गुप्ता ने उनके प्रतिनिधि के तौर पर बयान दिया। उन्होंने कहा प्रज्ञा सिंह ईवीएम की सुरक्षा व्यवस्था से संतुष्ट नहीं है। उन्होंने कहा कि दिग्विजय सिंह का मानना है कि चुनाव मैनेजमेंट से जीते जाते हैं इसलिए कुछ भी हो सकता है। हमारा भविष्य भी ईवीएम में कैद है और वो यहां रखा हुआ है इसलिए हम निरीक्षण करने पहुंचे। यहां देखने के बाद लगा कि सुरक्षा और मजबूत होनी चाहिए। इसकी शिकायत वे बुधवार को जिला निर्वाचन अधिकारी और मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी से लिखित में करेंगी। 

सीआरपीएफ तैनात करो

हालांकि हल्की जवान में उन्होंने कहा कि सीआरपीएफ के जवान बाहर क्यों पहरा नहीं दे रहे हैं। यहां भी सीआरपीएफ सहित अन्य सुरक्षा एजेंसी के लोग तैनात किए जाने चाहिए। वहीं अंदर दो कैमरे और लगाकर छत की तरफ का मूवमेंट भी प्रत्याशियों के प्रतिनिधि को दिखाने के लिए कहेंगे।

अपने लोगों को पहचानों, हर व्यक्ति का रिकार्ड चाहिए 
भाजपा कार्यकर्ताओं से बातचीत में उन्होंने कहा कि अपने लोगों को पहचानो। रात भर पहरा देने वाले हर व्यक्ति का रिकॉर्ड उन्हें चाहिए। उन्होंने खुद रात में स्र्कने वाले लोगों की पहचान की। मालूम हो, ईवीएम की सुरक्षा पर विधानसभा चुनाव के बाद कांग्रेस को संदेह था। अब भाजपा ने संदेह व्यक्त किया है।