Loading...

छात्रों ने कहा वोट डालना है इसलिए परीक्षाएं निरस्त की जाएं | INDORE EDUCATION NEWS

इंदैार। एमजीएम मेडिकल कॉलेज (MGM MEDICAL COLLEGE) के छात्रों ने वोट डालने के लिए परीक्षाएं निरस्त करने की मांग की है। बता दें कि मतदान के दिन शासकीय अवकाश होता है परंतु छात्रों का कहना है कि कई छात्र बाहर से आए हैं, उन्हे वोट डालकर लौटने में समय लगेगा इसलिए परीक्षाएं मतदान के बाद शुरू की जाएं। बता दें कि एमडी, एमएस और एमडीएस (सभी पीजी कोर्स) की परीक्षाएं 2 मई से शुरू होने जा रहीं हैं। परीक्षाओं के बीच में 19 मई को मतदान है। छात्रों का तर्क है कि महाराष्ट्र मेडिकल यूनिवर्सिटी ने वोटिंग के कारण परीक्षाएं आगे बढ़ाकर 28 मई से शुरू करने का निर्णय लिया है। यहां भी ऐसा ही होना चाहिए। 

छात्रों का कहना है कि इंदौर और आसपास 19 मई को वोटिंग है। कई छात्र बाहर के भी हैं। इन छात्रों को मई में ही अपने-अपने शहरों में वोटिंग के लिए जाना है। इसलिए परीक्षा आगे बढ़ना चाहिए। छात्रों ने इसके लिए मेडिकल यूनिवर्सिटी के कुलपति, रजिस्ट्रार और अन्य अफसरों को पत्र लिखा है। साथ ही चुनाव आयोग और केंद्र सरकार को भी पत्र भेजा है। इसमें मांग की गई है  25 मई तक के लिए परीक्षाएं निरस्त की जाए। 

तर्क दिया गया है कि यह परीक्षा बेहद कठिन और महत्वपूर्ण होती है। यह सैकड़ों विद्यार्थियों के करियर से जुड़ी है। ऐसे में चुनाव के दौरान हड़बड़ी में परीक्षा आयोजित करना गलत है। इसे तत्काल बदला जाना चाहिए। इस मामले में जबलपुर यूनिवर्सिटी की तरफ से अभी कोई आश्वासन नहीं दिया गया है। सिर्फ यह कहा गया है कि विचार किया जाएगा। जबकि छात्र अड़े हैं कि हर हाल में परीक्षा नहीं देंगे।