Loading...

अब वैष्णो देवी भवन भी लंगर मिलेगा, 15 मई से सेवा शुरू | NATIONAL NEWS

कटड़ा, राकेश शर्मा। विश्व भर से मां वैष्णो देवी के दर्शनों को आने वाले श्रद्धालुओं के लिए खुशखबरी है। जल्द ही श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड श्रद्धालुओं के लिए मां वैष्णो देवी के नए ताराकोट मार्ग के तारा कोर्ट स्थल पर निशुल्क लंगर की सुविधा देने जा रहा है। श्रद्धालुओं को 24 घंटे यह निशुल्क लंगर प्रसाद के रूप में उपलब्ध होगा। इसे लेकर श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने तैयारियां भी शुरू कर दी हैं। श्राइन बोर्ड प्रशासन 15 मई से यह सेवा शुरू करने जा रहा है। इसके लिए राशन के साथ ही बर्तनों की खरीद-फरोख्त की जा रही है।

देश के अन्य सुप्रसिद्ध धार्मिक स्थलों पर प्रसाद के नाम पर निशुल्क लंगर सेवा लगातार जारी है पर वैष्णो देवी भवन पर यह सुविधा न होने का मलाल हर पल श्रद्धालुओं को रहता था कि उन्हें प्रसाद के नाम पर लंगर उपलब्ध नहीं करवाया जा रहा है। श्रद्धालुओं की आस्था को देखते हुए आखिरकार श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड द्वारा आगामी मई माह में यह सेवा शुरू हो जाएगी। लंगर का मेन्यु भी तैयार कर लिया गया है।

एक समय में 180 श्रद्धालु कर सकेंगे भोजन: मां वैष्णो देवी के नए ताराकोट मार्ग के तारा कोट स्थल पर श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए हालांकि पहले से ही श्राइन बोर्ड द्वारा अत्याधुनिक भोजनालय बनाया गया है और इसी भोजनालय में अब श्रद्धालुओं को जल्द ही निशुल्क प्रसाद उपलब्ध होगा। आंधी हो या तूफान या गर्मी हो या सर्दी हर एक मौसम में श्रद्धालु बड़े आराम से बैठकर इस भोजनालय में निशुल्क प्रसाद ग्रहण कर सकेगा हालांकि इस भोजनालय में एक ही समय करीब 180 श्रद्धालु ही भोजन कर सकते हैं। श्राइन बोर्ड का कहना है कि अगर श्रद्धालुओं की संख्या अधिक बढ़ती है तो श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए टिकट काउंटर की स्थापना की जाएगी।

लंगर सेवा स्थल पर डोनेशन बॉक्स की भी होगी स्थापना: अगर कोई श्रद्धालु लंगर सेवा को लेकर दान करना चाहता हो तो उसके लिए जहां इस भोजनालय में डोनेशन बॉक्स लगाए जाएंगे तो वही डोनेशन काउंटर की भी स्थापना की जाएगी ताकि श्रद्धालु अपनी इच्छा अनुसार दान दे सके। वही श्राइन बोर्ड का कहना है कि इस लंगर सेवा से मिली राशि को लंगर सेवा पर ही खर्च किया जाएगा। अगर यह लंगर सेवा सफल रहती है तो निकट भविष्य में इस लंगर सेवा का विस्तार कर मां वैष्णो देवी के प्राचीन मार्ग के साथ ही बैटरी कार मार्ग पर भी यह लंगर सेवा शुरू करने पर श्राइन बोर्ड विचार कर रहा है।

सुबह मिलेगा हलवा पूड़ी और दिन में डोगरी खानाः सुबह के नाश्ते में जहां श्रद्धालुओं को चना, पूरी, हलवा के अलावा चाय उपलब्ध करवाई जाएगी। तो वहीं दिन के समय श्रद्धालुओं को डोगरी खाना उपलब्ध होगा जिसमें दाल, चावल तथा अंबल प्रमुख है। वहीं शाम के समय में चाय के साथ मटृठी तथा रस आदि शामिल हैं। रात्रि के समय सब्जी, दाल, रोटी तथा मिष्ठान आदि उपलब्ध होगा।

लंगर प्रसाद सेवा शुरू करने की तैयारियां अब अंतिम चरण में है। देश के अन्य प्रसिद्ध धार्मिक स्थलों की भांति मां वैष्णों के भक्तों को भी भवन व यात्रा मार्ग पर लंगर उपलब्ध होगा। श्रद्धालुओं की जानकारी के लिए श्राइन बोर्ड इस निशुल्क लंगर सेवा को अपनी अधिकारिक वेबसाइट पर भी डालेगा। - सिमरनदीप सिंह, सीईओ श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड