Loading...

आलम ने पूर्णिमा को जाल में फंसाया, पढ़िए WHATSAPP पर किस तरह तड़पाया कि लड़की ने फांसी लगा ली

नई दिल्ली। मामला छत्तीसगढ़ राज्य के रामानुजगंज का है। पुलिस डायरी में इस घटना को आत्महत्या दर्ज किया गया है एवं आरोपी को आत्महत्या के लिए प्रेरित करने वाला बताया गया है परंतु असल में यह हत्या से भी जघन्य है। फिरदौस आलम नाम के लड़के ने पीएससी की तैयारी कर रही छात्रा को पहले अपने जाल में फंसाया और फिर उसके सामने सारे अंतरंग फोटो एक-एक करके वायरल करने लगा। लड़की रहम की भीख मांगती रही परंतु फिरदौस आलम की हैवानियत कम नहीं हुई। अंतत: लड़की ने फांसी पर झूलकर आत्महत्या कर ली। 

लड़की को बता बताकर वायरल किए फोटो

आरोपी की पहचान शहर के वार्ड नंबर 13 निवासी फिरदौस आलम के रूप में हुई है। वहीं, मृतक छात्रा 23 वर्षीय पूर्णिमा गुप्ता वार्ड नंबर 1 की रहने वाली थी। सोमवार की दोपहर फिरदौस ने छात्रा के वॉट्सऐप नंबर पर एक स्क्रीनशॉट भेजा। जिसे देखकर लड़की सकपका गई। इसमें उसकी आपत्तिजनक तस्वीर थी, जो वायरल कर दी गई थी। पूरी चैटिंग के दौरान छात्रा गिड़गिड़ाती रही, भले मुझे मार डालो लेकिन प्लीज यार ऐसा मत करो। लेकिन फिरदौस लगातार धमकी देते हुए लिख रहा था, अब ये वाला डाल रहा हूं। अब सबमिट कर रहा हूं।

छात्रा गिड़गिड़ाती रही, मुझे बदनाम मत करो प्लीज, चाहो तो खुद मार डालो

छात्रा बार-बार फिरदौस से फोटो अपलोड नहीं करने को लेकर कहती रही। छात्रा ने यह तक कहा, जो करना है करो लेकिन मुझे बदनाम मत करो। फिर उसने घरवालों की दुहाई दी कि मेरी फैमिली जीते जी मर जाएगी। लेकिन आरोपी युवक जिद पर अड़ा हुआ था। छात्रा के बार-बार आग्रह पर भी जब फिरदौस नहीं माना, तो दोपहर 12.46 बजे उसे अंतिम मैसेज कर 12.48 पर पूर्णिमा घर में ही फंदा बनाकर लटक गई। जिसके बाद परिजन उसे फंदे से उतारकर फौरन अस्पताल ले गए। लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी। घटना के बाद से रामानुजगंज में शोक व आक्रोश का माहौल है। आरोपी युवक ने अपने कई मैसेज डिलिट कर दिए हैं।

पीएससी की तैयारी कर रही थी छात्रा

मृतका पूर्णिमा शासकीय लरंगसाय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में एमएससी की पढ़ाई कर रही थी। होनहार छात्रा के रूप में उसकी पहचान थी। उसके दोस्तों ने बताया कि वह एमएससी की पढ़ाई के साथ-साथ पीएससी की भी तैयारी कर रही थी। इसके लिए वह प्रशासन द्वारा संचालित उड़ान कोचिंग जाया करती थी।