Loading...

मोबाइल नेटवर्क के कारण दर्ज हुआ बलात्कार का केस | NATIONAL NEWS

नई दिल्ली। यहां पुअर मोबाइल नेटवर्क के कारण एक बलात्कार का केस दर्ज हो गया। जब तक इसका खुलासा हुआ देर हो चुकी थी। पुलिस सारी दस्तावेजी प्रक्रियाएं पूरी कर चुकी थी। कोर्ट में सुनवाई शुरू हुई और लड़की के बयान हुए तब जाकर मामले के पीछे की असलियत सामने आई। 

टाइम्स ग्रुप की एक रिपोर्ट के अनुसार, लड़की मुखर्जी नगर में रहकर यूपीएससी की तैयारी कर रही है। उसका एक युवक से प्रेम प्रसंग चल रहा था। दोनों के बीच शादी की बात भी चल रही थी। पुलिस को दिए बयान में लड़की ने बताया था कि 2 जुलाई 2017 को आरोपी ने पीड़िता की मांग में सिंदूर भरा था। दोनों मुखर्जी नगर में साथ एक कमरे में रहते थे। इसी दरमियान उनके बीच कई बार शारीरिक संबंध भी बने।

इसके कुछ दिनों बाद प्रेमी किसी काम की वजह से घर चला गया। पीड़िता ने कई बार कॉल कर उससे संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन बात नहीं हो पाई। उसे लगने लगा कि उसके साथ धोखा हुआ है। लड़की को लगा कि उसे प्रेमी ने धोखा दिया है इसलिए वो थाने पहुंच गई और रेप केस दर्ज करवा दिया। फिर मामला जब कोर्ट में पहुंचा तो लड़की के बयान बदल गए। युवती ने कहा कि वह और आरोपी एक-दूसरे के पति-पत्नी हैं। लड़के ने बताया कि नेटवर्क में खराबी के कारण कॉल नहीं लग पा रहा था इसलिए यह सबकुछ हुआ। 

लड़की ने बताया कि उसने एक सोशल वर्कर के कहने पर रेप केस दर्ज करवाया था और कोर्ट में बयान दिया। हालांकि, बाद में पीड़िता ने ट्रायल कोर्ट में रेप की बात से इनकार किया। यही नहीं, उसने इस बात से भी इनकार कर दिया कि शादी का झांसा देकर उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए गए थे। उसने बताया कि उनके बीच सहमति से संबंध बने थे और दोनों आपस में शादीशुदा हैं। आरोपी ने भी लड़की की बात का समर्थन किया। फिर कोर्ट ने आरोपी को रेप के आरोपों से बरी कर दिया।