Advertisement

मैं हर गाली को गहना बना लेता हूं: नरेंद्र मोदी | NATIONAL NEWS



नई दिल्ली। भाजपा से आ रही सूचना के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार काे मैं भी चाैकीदार अभियान के तहत देशभर के 25 लाख लोगों से ऑडियाे ब्रिज के जरिए संवाद किया। भाजपा ने दावा किया है कि इन सभी ने अपने नाम के आगे 'चौकीदार' लगा लिया है। ऑडियाे ब्रिज में मोदी ने कहा, ''मैं आप सभी चौकीदारों से माफी मांगता हूं क्योंकि कुछ लोगों ने अपने निजी स्वार्थ के लिए बिना कुछ सोचे-समझे गाली-गलौच करना शुरू कर दिया और चौकीदार को चोर कह दिया। चौकीदारों की तपस्या के सामने सवालिया निशान खड़ा कर दिया। कांग्रेस के चौकीदार चोर है के नारे पर उन्होंने कहा, ''मैं हर गाली को गहना बना लेता हूं।''

बच्चों के भीतर चौकीदार के संस्कार रखना है

प्रधानमंत्री ने कहा, ''आजकल हर जगह चौकीदारों की ही चर्चा है, चाहे टीवी हो या ट्विटर, देश हो या विदेश, गांव हो या शहर, हर जगह चौकीदार शब्द की ही गूंज है। आज पूरा देश चौकीदार होने की शपथ ले रहा है और कह रहा है मैं भी चौकीदार। मोदी ने कहा, ''हमे बहुत आगे बढ़ना है। अपने बच्चों को बहुत बड़ा बनाना है, उन्हें डॉक्टर बनाना है, इंजीनियर बनाना है, सेना का जवान बनाना है, देश का प्रधानमंत्री भी बनाना है। लेकिन हम सबको अपने बच्चों के भीतर चौकीदार के संस्कार को बनाए रखना है।''

चौकीदार ईमानदारी का पर्याय बन चुके हैं

आज पूरा देश चौकीदार होने की शपथ ले रहा है। चौकीदार ईमानदारी का पर्याय बन चुके हैं। ये नामदारों की फितरत है, कामदारों के लिए नफरत फैलाना। असहिष्णुता इनकी फितरत में हैं। कामदार प्रधानमंत्री बन जाता है, तो वो भी ये सहन नहीं कर पाते। कोई नाम से बड़ा नहीं होता, अपने काम और देश के प्रति निष्ठा और समर्पण से होता है। मैं यही कहूंगा चौकीदार साथियों से कि हमें बहुत आगे बढ़ना है।''

2014 में चायवाला, 2019 में चौकीदार

नरेंद्र मोदी अपने राजनीतिक जीवन में कुछ इसी तरह के मुद्दे बनाकर आगे बढ़ते रहें हैं। गुजरात विधानसभा चुनाव के बाद 2014 में उन्होंने 'चाय वाला' को मुद्दा बना दिया था। इस तरह उन्होंने निर्धन वर्ग की सहानुभूति जीत ली थी। 2019 में उन्होंने 'चौकीदार' को मुद्दा बना दिया है। देखते हैं वो इस मुद्दे को कहां तक ले जाएंगे।