हीरालाल अलावा निराश, कांग्रेस को फिर धमकी दे डाली | MP NEWS

Advertisement

हीरालाल अलावा निराश, कांग्रेस को फिर धमकी दे डाली | MP NEWS


भोपाल। कांग्रेस (CONGRESS) को धमकियां दे देकर कांग्रेस से विधानसभा टिकट (Assembly tickets) हासिल करके विधायक बने आदिवासी युवा नेता हीरालाल (Tribal youth leader Hiralal) अलावा अब निराश हो चले हैं। सीएम कमलनाथ (CM KAMALNATH) से मुलाकात के बाद उन्होंने एक बार फिर कांग्रेस को धमकी दे डाली है। कहा है कि यदि कांग्रेस ने 4 आदिवासी सीटों पर उनकी मर्जी के टिकट नहीं दिए तो वो भाजपा (BJP) में चले जाएंगे। 

मुख्यमंत्री कमलनाथ से मुलाकात के बाद हीरालाल अलावा (Hiralal alawa) का बयान सामने आया है, अलावा का कहना है कि हमने जयस की तरफ से मुख्यमंत्री के सामने प्रस्ताव रखा है कि वह 4 आदिवासी लोकसभा सीट पर जयस के कार्यकर्ता को उम्मीदवार बनाएं, जिसमें धार, खरगोन, बैतूल और रतलाम सीट शामिल है। हीरालाल अलावा ने कहा कि अगर हमारी बात नहीं मानी जाती है तो कई और राजनीतिक पार्टियों के लिए हमने रास्ते खुले रखे हैं, वहीं बीजेपी के कई दिग्गज नेताओं ने भी बातचीत का प्रस्ताव दिया है, उन्होंने कहा कि जयस की राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक में फैसला लिया गया है कि अगर कांग्रेस जयस कार्यकर्ताओं को दरकिनार करती है तो कई और राजनीतिक पार्टियों से बात की जायेगी, अगर रास्ते वहां से भी बेहतर रिजल्ट नहीं निकलता है तो निर्दलीय उम्मीदवार उतारेंगे।

क्यों घट गया HIRALAL ALAWA का वजन

हीरालाल अलावा एम्स (AIMS) में जूनियर रेसीडेंट डॉक्टर (DOCTOR) थे। इसी बीच उन्होंने मध्यप्रदेश के आदिवासी इलाकों में काम करना शुरू किया। आदिवासियों की आवाज उठाई। वो तेजी से लोकप्रिय हुए। हालात यह बने कि मप्र की 80 विधानसभा सीटों पर उनके संगठन 'जयस' का प्रभाव दिखाई देने लगा परंतु ऐन चुनाव से पहले हीरालाल अलावा कांग्रेस की गठबंधन की राजनीति फंस गए। उन्होंने कांग्रेस से 'जयस' के लिए 40 सीटें मांगी थीं परंतु कांग्रेस ने सिर्फ 1 सीट दी, वो भी 'जयस' को नहीं बल्कि हीरालाल अलावा को कांग्रेस का उम्मीदवार बना दिया। हीरालाल अलावा ने इसे स्वीकार कर लिया और तभी से मध्यप्रदेश की राजनीति में हीरालाल अलावा का वजन घटता चला गया। मंत्री ना बनाए जाने पर भी हीरालाल अलावा ने कांग्रेस का साथ छोड़ने की धमकी दी थी। अब लोकसभा से पहले भी दे रहे हैं।