Loading...

#MeToo से प्रभावित फिल्ममेकर अर्घ्य बसु की डेडबॉडी मिली | BOLLYWOOD NEWS

कोलकाता। (Kolkata) के 48 वर्षीय डॉक्यूमेंट्री फिल्ममेकर अर्घ्य बसु (Arghya Basu) अपने अपार्टमेंट में मृत पाए गए. जांचकर्ताओं द्वारा उपलब्ध कराई गई जानकारी के मुताबिक वह पिछले काफी वक्त से तनाव से जूझ रहे थे और उन्होंने खुद को फांसी लगा ली. सर्वे पार्क पुलिस स्टेशन के एक पुलिस ऑफिसर ने बताया, "संतोषपुर इलाके में रह रहा अर्घ्य 1 मार्च को अपने फ्लैट में फंदे पर लटकता पाया गया. अस्पताल में उसे मृत घोषित कर दिया गया."

अधिकारी ने बताया कि जांचकर्ताओं ने बसु के पड़ोसियों से बात की और पता चला कि वह भारी तनाव से जूझ रहा था. हालांकि उसके घर से जांचकर्ताओं को कोई भी सुसाइड लेटर नहीं मिला है. उनकी लाश को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है. FTII (Films and Television Institute of India) पूर्व टीचर रहे हैं और उन पर एक चर्चित फिल्ममेकर ने सेक्सुअल हरासमेंट का आरोप लगाया था.

फिल्ममेकर ने #MeToo के साथ लिखी गई अपनी सोशल मीडिया पोस्ट में बसु के नाम का जिक्र किया था. #MeToo मूवमेंट को ट्विटर पर लाने वाली पत्रकार संध्या मेनन ने बसु की मौत पर लिखा, "अर्घ्य बसु के करीबियों को मेरी सहानुभूति. इसने मुझे आहत किया है और जाहिर है उन लोगों को भी जो सुरक्षित कार्यक्षेत्र की ओर काम कर रहे हैं."

मेनन ने लिखा, "मैं इस सबके बारे में और इनके नतीजों के बारे में सोचती हूं और लगता है कि यह किस तरह महिला और पुरुषों की जिंदगियों को प्रभावित कर रहा है. मेरे लिए यह उस चीज को हाइलाइट करता है कि कैसे ICC फेल हो रहे हैं. उस महिला ने सबसे कड़ा कदम लिया था अपने नाम को सबके सामने उजागर करके ताकि वह सिस्टम से लड़ सके.