Advertisement

INDORE NEWS | राजवाड़ा बाजार को लेकर फैसला बदला, गृहमंत्री ने सहमति दी



इंदौर राजवाड़ा चौक की देर रात रहने वाली रौनक फिर लौटेगी। यहां खाने-पीने की दुकानें दो बजे रात तक खुली रहेंगी। सात साल पहले कानून व्यवस्था की बहाली के नाम पर पुलिस ने रात 12 बजे से पहले ही यहां दुकानें बंद करने का फरमान जारी किया था। लोगों के विरोध और जनप्रतिनिधियों की सुस्ती से फरमान ने बाजार की रौनक छीन ली थी। सरकार बदली तो शहर कांग्रेस नेताओं ने राजवाड़ा की रौनक बहाल करने का प्रस्ताव रखा। गृहमंत्री ने भी इस पर प्रारंभिक सहमति दे दी है।

गुरुवार को इंदौर आए गृह मंत्री बाला बच्चन शहर कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल के दफ्तर पर पहुंचे तो प्रदेश कांग्रेस सचिव राजेश चौकसे समेत अन्य कांग्रेसी भी शहर के मुद्दे लेकर पहुंच गए। बाकलीवाल और चौकसे ने राजवाड़ा पर पुलिस की सख्ती और जबरिया बाजार बंद करने का मुद्दा उठाया। कांग्रेस पदाधिकारियों ने कहा कि आपने भी इंदौर में ही पढ़ाई की है। कॉलेज के समय रात को चाय-नाश्ता करने आप भी राजवाड़ा ही जाते होंगे।

बाकलीवाल ने कहा कि सराफा रात दो बजे तक खुला रह सकता है तो राजवाड़ा की खाने-पीने की दुकानें क्यों नहीं खुली रह सकतीं। रात 11 बजे बाद सख्ती के नाम पर पुलिस जबर्दस्ती दुकानें बंद करवाती है। कानून व्यवस्था के नाम पर ये नई तरह की वसूली का खेल भी शुरू हो गया है, जबकि दुकानें देर रात तक खुली रहेंगी तो शहर में चहल-पहल भी बढ़ेगी। इससे रात में अपराध भी कम होंगे। पुलिस अपनी जिम्मेदारी से बचने के लिए शहर की परंपरा को खत्म कर रही है।

जल्द जारी करवाएंगे आदेश
कांग्रेस नेताओं ने कहा कि सराफा की तरह कम से कम रात 2 बजे तक राजवाड़ा की दुकानों को खुली रखने की छूट दी ही जाना चाहिए। चौकसे ने कहा कि कुल मिलाकर चार-पांच दुकानें होंगी जो इस आदेश के दायरे में आएंगी। मौके पर ही गृह मंत्री ने कांग्रेस नेताओं की बात से सहमति जताते हुए आश्वासन भी दे दिया कि वे इस मामले पर आईजी व अन्य अधिकारियों से चर्चा कर रहे हैं कि उन्हें इससे परेशानी क्या है। जल्द ही बाजार को लेकर आदेश भी जारी करवा दिया जाएगा। गृह मंत्री ने आने वाले लोकसभा चुनाव की तैयारी को लेकर भी शहर कांग्रेस अध्यक्ष से चर्चा की। बाकलीवाल से कहा गया कि वे चुनाव के लिए टीम बनाकर सभी को जिम्मेदारी बांट दें।

कुछ कांग्रेस नेताओं ने शहर में हो रहे अवैध धंधों को लेकर गृह मंत्री से शिकायत की। इम्तियाज बेलीम ने खजराना क्षेत्र में अवैध कॉलोनियों की शिकायतें करते हुए कहा कि प्रशासन को निर्देश दें कि इस पर रोक लगाए। एक-एक प्लॉट की कई लोगों को नोटरी की जा रही है इससे विवाद हो रहे हैं। रमेश यादव ने मिल क्षेत्र में खुलेआम नशाखोरी और नशीले पदार्थ बेचे जाने की शिकायत गृह मंत्री से की।