फीस के बदले बेटी का रेप करता था पिता, मां चुप रहती थी | INDORE MP NEWS

इंदौर। यहां एक शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। मेडिकल कॉलेज में फिजियोथैरेपी की पढ़ाई कर रही 20 साल की लड़की का पिता 3 साल से उसका रेप कर रहा था। पिता उसकी पढ़ाई की फीस इसी शर्त पर देता था कि लड़की उसकी हवस मिटाती रहे। लड़की की मां को भी सब पता था परंतु वो चुप रहती थी। लड़की की छोटी बहन हॉस्टल में थी। अगले साल लड़की हॉस्टल जाने वाली थी और पिता ने उसकी छोटी बहन को घर आने को कह दिया था। लड़की को डर था कि उसकी बहन के साथ भी यही होगा, इसलिए उसने हिम्मत जुटाई और सारी कहानी पुलिस को बता दी। पुलिस ने 38 साल के पिता को गिरफ्तार कर लिया है। 

छाटे भाइे को डांस क्लास भेज देता था पिता

जांचकर्ता एसआई श्रद्धा सिंह पंवार के मुताबिक पीड़िता ने बताया उसका कॉलेज टाइम सुबह 8 से 4 है। पिता उसे फोन पर धमकाकर जल्दी घर बुलाता है। कहता है तू नहीं आती है तो मुझे नींद नहीं आती है। उसने मेरी पूरी जिंदगी खराब कर दी है। पिता एक मसाला फैक्टरी में नाइट शिफ्ट में काम करता है। मां भी उसी फैक्टरी में दिन में काम करती है। आरोपी फूट-फूटकर थाने में रोने लगा। आरोपी की 10 साल की उम्र में शादी हो गई थी। वह 18 साल का हुआ तो उसकी पत्नी ने बेटी को जन्म दिया। अब बेटी 20 साल की और पिता 38 साल का हो चुका है। पीड़िता ने बताया एक छोटा भाई भी है। पिता ने उसे शाम को व्यस्त करने के लिए डांस क्लास ज्वॉइन करवा दी।

शर्त रखी- 61 हजार दे रहा हूं, रोज समय पर आ जाना

पीड़िता ने कहा पिता ने पिछले साल कॉलेज में मेरी 61 हजार रुपए फीस भरी। उसने शर्त रखी कि आगे की फीस तभी देगा जब मैं रोजाना समय पर उसके पास पहुंच जाऊं और किसी को भी कुछ नहीं बताऊं। पीड़िता की सहेली ने बताया कि शिवरात्रि के एक दिन पहले कॉलेज में मैडम ने निर्भया का एक लेक्चर लिया था। इस दौरान दूर बैठी मेरी सहेली (पीड़िता) ने मुझे मैसेज किया कि ऐसा मेरे साथ भी होता है। इसके बाद एक और सहेली को साथ लेकर पिता के खिलाफ सबूत जुटाने के लिए उसकी बातचीत रिकॉर्ड की।

फोन आते ही दूर जाकर बात करती थी

छात्राओं ने बताया कि सहेली का पिता रोज दोपहर में फोन लगाकर धमकाता था। कहता था कि मुझे नींद नहीं आ रही है। तू नहीं आई तो मैं तेरी मां को मार डालूंगा या फिर खुद मर जाऊंगा। जब भी फोन आता था तो हमारी सहेली दूर जाकर बात करती थी। हम सोचती थी कि पिता का फोन आने पर ये दूर क्यों चली जाती है, लेकिन तब हम कुछ समझ नहीं पाए। सहेली ने अब पूरी बात बताई है। हम उसकी पूरी मदद करेंगे। आरोपी को सजा दिलाएंगे।

मां ने कहा: घर की इज्जत घर में ही रहती तो अच्छा था

पुलिस को शंका है पीड़िता की मां को भी जानकारी थी। एक बार पीड़िता ने अपनी मां को कहा था कि मेरी एक सहेली का पिता उसके साथ गलत हरकत करता है, उसे क्या करना चाहिए। तब मां ने कहा था कि बेटी पिता ही घर चलाता है। तुम्हारी सहेली को शिकायत करने से अच्छा है कि घर की इज्जत घर में रहना चाहिए। शुक्रवार को महिला एसआई ने पीड़िता से उसकी मां को फोन लगवाकर लाउड स्पीकर चालू करवाया। मां बोली कि बेटी तेरे पिता को पुलिस उठा ले गई है। बेटी ने कहा मैं तो अपनी सहेली के घर हूं। इस पर मां बोली बेटा ऐसा कुछ था तो ऐसा नहीं करना था। घर की इज्जत घर में ही रहती तो अच्छा था। शंका है पति 17 हजार रुपए महीने कमाता है, इसी लालच में पत्नी चुप बैठी है।