Loading...

मंत्रियों के सामने साक्षरता प्रेरक एवं आशा-ऊषा कार्यकर्ताओं की मांग दोहराई | MP NEWS

भोपाल। कर्मचारी संयुक्त मोर्चा के तत्वावधान में मंत्रालय बल्लभ भवन में बैठक का आयोजन किया गया। वीरेंद्र खोंगल एवं भुवनेश पटेल की अध्यक्षता में हुईं सामूहिक बैठक में अतिथि के तौर पर गृहमंत्री बाला बच्चन जी, गोविंद सिंह जी सामान्य प्रशासन विभाग, पी सी शर्मा जी विधि विधायी मंत्री मध्यप्रदेश शासन शामिल हुए। 

बैठक मैं प्रदेश के समस्त संगठनों की मांगों को लेकर आयोजित की गई। खोंगल जी ने कर्मचारियों की मांग उठाते हुए कहा कि वचनपत्र में तय बिंदु के आधार पर सभी कर्मचारियों का अतिशीघ्र निराकरण किया जाए। साथ ही अवगत कराया की 31 मार्च 2018 सेवा से पृथक किए गए साक्षरता संविदा प्रेरकों की मांगों को एवं आशा कार्यकर्ता ऊषा कार्यकर्ता एवं सहयोगनी (आशा सुपरबाइजर) संज्ञान में लेते हुए श्री खोंगल जी ने कहा की सरकार द्वारा साक्षरता संविदा प्रेरकों की एवं आशा ऊषा कार्यकर्ता एवं सहयोगनी (आशा सुपरबाइजर) की मांग 90 दिन में निराकरण का वचन पत्र में शामिल है जिसके लगभग दो माह होने जा रहें है में सरकार का ध्यान इन साक्षरता संविदा प्रेरक शिक्षकों की ओर एवं आशा कार्यकर्ता ऊषा कार्यकर्ता सहयोगनी (आशा सुपरबाइजर) की ओर ध्यान केंद्रित करवाना चाहता हूँ। 

प्रतिनिधि मंडल के तौर पर साक्षरता संविदा प्रेरक मोर्चा भोपाल मध्यप्रदेश से संदीप गुप्ता प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मी कौरव प्रदेश अध्यक्ष आशा ऊषा सहयोगनी संघ सीमा रघुवंशी जिला अध्यक्ष विदिशा आरती जिला सचिव निर्मला दिनकर जिला अध्यक्ष दतिया  विदिशा  किशोरी दिनकर निर्णायक समिति सदस्य रंजीत राठौर निर्णायक समिति सदस्य राजेश अहिरवार प्रदेश कोषाध्यक्ष मुन्ना लाल बघेल जी प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य सुभाष शर्मा दिलीप जी,भूपेंद्र गुर्जर धारा सिंह सोलंकी बाबूलाल अहिरवार राम सिंह दिशोरिया भूपेन्द्र जी मुख्य रूप से उपस्थित रहे हैं।