LOKSABHA CHUNAV HINDI NEWS यहां सर्च करें




JYOTISH: मंगल का राशि परिवर्तन: पढ़िए आपको कितना प्रभावित करेगा

01 February 2019

फरवरी माह में तीन ग्रह गोचर कर अपनी राशियों को बदल रहे हैं। मंगल, बुध और शुक्र तीनों ग्रह राशि परिवर्तन करेंगे। मंगल ग्रह 5 फरवरी की रात 11.48 बजे के बाद राशि परिवर्तन कर मीन राशि से अपनी ही मूल त्रिकोण राशि मेष में प्रवेश करेंगे। यहां वह 22 मार्च 2019 को दोपहर 3.29 तक रहेंगे।

वहीं, बुध 7 फरवरी की सुबह 10.19 मिनट पर मकर राशि से कुंभ राशि में गोचर करेंगे और शुक्र 24 फरवरी को धनु राशि से निकल कर मकर राशि में प्रवेश करेंगे। मंगल को उर्जा देने वाला ग्रह माना जाता है। जानिए मंगल के राशि परिवर्तन का क्या होगा आपकी राशि पर असर...

मेष- अपनी ही राशि में मंगल का गोचर शुभ प्रभाव लेकर आएगा। किस्मत साथ देगी और सेहत में सुधार होगा। अति उत्साह में काम करने से बचें। स्वभाव उग्र रहेगा, गुस्से पर नियंत्रण रखें। मां के स्वास्थ्य का ध्यान रखें। जीवन साथी का सहयोग मिलेगा।

वृष- आपकी राशि से 12वें भाव में मंगल के जाने से खर्चों में बढ़ोतरी होगी, यात्रा का योग बन सकता है। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। कोर्ट-कचेहरी के मामलों में विजय मिल सकती है। इस दौरान उधार देने से बचें। स्वास्थ्य का ध्यान रखें।

मिथुन- राशि से 11वें स्थान पर गोचर होने से लाभ होगा। आर्थिक लाभ हो सकता है। भूमि-भवन से संबंधित लाभ हो सकते हैं। सुख-सुविधा पर खर्च बढ़ेगा। बच्चों की तरफ से कोई अच्छी खबर मिल सकती है। नए दोस्त बन सकते हैं और पुराने मित्रों से मुलाकात हो सकती है। स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें। उधार देने से बचें।

कर्क- आपकी राशि से 10वें भाव में गोचर होने से करियर में लाभ होगा, व्यापार में तरक्की होगी। अति उत्साह में कोई काम करने से बचें। घर परिवार में प्रेम बढ़ेगा। बच्चों की सफलता मिल सकती है।

सिंह- भाग्य भाव में गोचर करने से खर्चों में बढ़ोतरी होगी, लेकिन खर्च शुभ कार्यों में होगा। पिता को लाभ और पिता से सहायता मिल सकती है। छोटे-भाई बहनों को लाभ मिलेगा। छोटी दूरी की या धार्मिक यात्राएं हो सकती हैं। परिश्रम का पूरा लाभ मिलेगा।

कन्या- आठवें स्थान पर मंगल का गोचर होने से स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखें। खून संबंधी परेशानी, चोट-चपेट लगने की आशंका है। अचानक धन लाभ हो सकता है। कठिन परिश्रम करने पर भी पूरा लाभ नहीं मिल सकेगा। भाई-बहनों को लाभ मिलेगा।

तुला- सातवें स्थान पर मंगल का गोचर होने से जीवन साथी के साथ संबंध तनावपूर्ण हो सकते हैं, लिहाजा क्रोध पर नियंत्रण रखें। कार्यस्थल में वरिष्ठ अधिकारियों का साथ और लाभ मिलेगा मिलेगा। पार्टनरशिप में काम करने वालों को लाभ हो सकता है।

वृश्चिक- इस राशि का स्वामी गोचर में छठवें स्थान पर है। वाहन चलाने में सावधानी रखें, दुर्घटना हो सकती है। छात्रों के लिए अच्छा समय है, लेकिन कठिन परिश्रम करना होगा। शत्रु और विरोधियों से विजय मिलेगी। धार्मिक कार्यों में रुझान बढ़ेगा, यात्राएं हो सकती हैं। खर्चे बढ़ सकते हैं। क्रोध में काबू रखें और अति उत्साह से बचें।

धनु- आपकी राशि से पांचवे स्थान पर होने से परिवार और रिश्तों में संयम रखें। बच्चे जिद्दी और अड़ियल हो सकते हैं। व्यय बढ़ सकता है, हालांकि आय के साधन भी बनेंगे। यात्राओं के योग बन रहे हैं।

मकर- चतुर्थ स्थान पर मंगल का गोचर होने से संपत्ति और वाहन संबंधी मामलों में सफलता मिल सकती है। मां और जीवन साथी के साथ तालमेल बनाकर चलें। कार्यस्थल में वरिष्ठ कर्मचारियों से लाभ मिल सकता है।

कुंभ- आपकी राशि से तीसरे स्थान पर मंगल का गोचर होने से छोटे भाई-बहनों को लाभ मिलेगा। धार्मिक कार्यों में रुझान रहेगा और छोटी यात्राओं के योग बन रहे हैं। उधार देने से बचें। विरोधियों पर विजय हासिल होगी।

मीन- आपकी राशि से दूसरे स्थान पर मंगल का गोचर होने से भूमि-भवन संबंधी कोई काम कर सकते हैं। बच्चों का स्वभाव अड़ियल हो सकता है। अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें और वाहन चलाने में सावधानी रखें।

नोट- मंगल के गोचर के साथ ही जन्मपत्री में अन्य ग्रहों की स्थिति के अनुसार फल बदल सकते हैं। कोई परेशानी होने पर योग्य ज्योतिषी से संपर्क करें।



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Suggested News

Loading...

Advertisement

Popular News This Week

 
-->