Loading...

सरकार का गोबर चोरी, कर्मचारी के खिलाफ FIR | NATIONAL NEWS

नई दिल्ली। क्या गोबर भी चोरी होता है, यदि हो भी जाए तो क्या कोई उसके लिए पुलिस थाने जाकर रिपोर्ट दर्ज कराएगा। यदि चला भी जाए तो क्या पुलिस FIR दर्ज करेगी और यदि कर भी ले तो क्या तो क्या वो फटाफट कार्रवाई करके ना केवल आरोपी को गिरफ्तार करेगी बल्कि गोबर भी जब्त करेेगी। यह सबकुछ हुआ है। कर्नाटक के चिकमंगलुरु में। 

यह घटना चिकमंगलुरु, कर्नाटक के बिरूर थाना क्षेत्र की है। जानकारी के मुताबिक पशुपालन विभाग के जॉइंट डायरेक्टर की तरफ से गाय के गोबर की चोरी के मामले में FIR दर्ज कराई गई थी। उन्होंने पुलिस से शिकायत की थी कि अमृतमहल कवल के स्टॉक में गोबर रखा था जहां से 35-40 ट्रैक्टर गोबर चोरी हो गया। इस गोबर की कीमत 1.25 लाख रुपए बताई जा रही है। शिकायत के बाद पुलिस जांच में जुट गई, क्योंकि मामला 1.25 लाख के गोबर का था। इसके बाद पुलिस ने पशुपालन विभाग के सुपरवाइजर को गिरफ्तार कर लिया। इसके अलावा जिस व्यक्ति के जमीन पर चोरी का गोबर पाया गया उसके खिलाफ भी FIR दर्ज की गई है। 

पुलिस ने बरामद किए गए गोबर को पशुपालन विभाग को सौंप दिया है। अब आप सोच रहे होंगे की गाय का गोबर इतना कीमती कहां से हो गया तो जान लीजिए, इसका उपयोग खेती बाड़ी में खाद के रूप में किया जाता है। कर्नाटक में गाय के गोबर की काफी मांग है। इसी वजह से वहां पर इसकी कीमत भी ज्यादा है।