Loading...

स्कूल बस से अगवा हुए जुड़वा भाईयों के शव मिले | CRIME NEWS

सतना। 13 दिन पूर्व चित्रकूट के मध्य प्रदेश इलाके के सद्गुरू पब्लिक स्कूल ( Sadguru Public School ) से अगवा तेल व्यवसाई के दो जुडवां बच्चों की हत्या कर दी गई। उनके शव रविवार की सुबह मर्का थाना क्षेत्र के गांव बाकल के पास यमुना नदी से बरामद हुए। स्कूल बस से अगवा हुए जुड़वा भाई प्रियांश और श्रेयांश ( Priyansh and Sreyansh) के शव बांदा में मिलने के बाद पूरे इलाके में रोष फैल गया है। बताया जा रहा है कि परिवार वालों ने अपहरणकर्ताओं को 25 लाख रुपए भी दे दिए थे, फिर भी उन्होंने बच्चों को मार दिया। बीते 12 फरवरी को चित्रकूट के सीतापुर निवासी बृजेश रावत ( Brijesh Rawat ) के दो जुडवां बेटों प्रियांश व श्रेयांश का बाइक सवार दो बदमाशों ने स्कूल परिसर के अंदर से बस से उतारकर अपहरण कर लिया था। इसके बाद से यूपी, MP पुलिस के अलावा दोनों प्रांतों की STF भी इन बच्चों की तलाश में जुट गई थी। STF ने बांदा व चित्रकूट के चिन्हित चार अपहरणकर्ताओं में तीन को गिरफ्तार भी कर लिया। इन्हीं की निशानदेही पर रविवार सुबह पुलिस ने दोनों मासूमों के शव बरामद किए।

12 फरवरी को यूकेजी के छात्र प्रियांश और श्रेयांश घर जाने के लिए अपनी स्कूल बस (क्रमांक एमपी 19 पी 0973) में बैठे थे। तभी उसी बस को रोककर बदमाश पिस्टल दिखाते हुए अंदर चढ़े, इस दौरान बस में शिक्षिका, बस चालक, कंडक्टर और 30 बच्चे मौजदू थे। दो प्रांतों की पुलिस ने मिलकर मुख्य चार अपहरणकर्ताओं को पकड़ तो लिया था, लेकिन बच्चों को सकुशल नहीं बरामद कर सकी। मर्का एसओ जाकिर हुसैन ने बताया कि दोनों शव पोस्टमार्टम के लिए भेजे गए है।

एक बदमाश ने शिक्षिका को बंदूक दिखाई और दूसरा बदमाश प्रियांश और श्रेयांश को उठा लाया। यह घटना बस में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। बाद में वे बच्चों को बाइक पर बैठाकर स्कूल परिसर से बाहर निकल गए। यहां लगे कैमरों में भी वे कैद हो गए थे। मासूम यह सोचकर बस में बैठे थे कि अब वे अपने घर जाकर माता-पिता से मिलेंगे, लेकिन बदमाशों ने उन्हें अपने परिवार से हमेशा के लिए जुदा कर दिया।