LOKSABHA CHUNAV HINDI NEWS यहां सर्च करें





सजा में शिक्षिका ने 7वीं के STUDENT को दुपट्‌टा चूड़ियां पहनाईं | MP NEWS

14 February 2019

बुरहानपुर। चंद्रकला वार्ड स्थित इकरा माध्यमिक स्कूल की एक महिला शिक्षक ने होमवर्क पूरा नहीं करने पर सजा के तौर पर 7वीं के छात्र को सबके सामने लड़कियों की तरह दुपट्‌टा और चूड़ियां पहनाईं। पूरी कक्षा के सामने हुए इस बर्ताव से छात्र डिप्रेशन में चला गया। इस कारण वह दो दिन से स्कूल नहीं जा रहा था। परिजन के पूछने पर उसने पूरी बात बताई। 

प्राचार्य बोला: चुपचाप शिकायत क्यों नहीं की, भीड़ क्यों लाए

मामला उजागर होने पर गुस्साए परिजन बुधवार को स्कूल पहुंच गए। यहां उन्होंने शिक्षिका के इस तरह से सजा देने के तरीके पर आक्रोश जताया। उन्होंने शिक्षिका को स्कूल से हटाने की मांग की। प्राचार्य से शिकायत करने पहुंचे परिजन ने शिक्षिका के इस बर्ताव पर विरोध दर्ज कराया। उनके आने की खबर लगते ही शिक्षिका सना स्कूल से चली गई। छात्र के पिता मौसीम ने कहा- ऐसी सजा देने वाली शिक्षिका को स्कूल से हटा दो। प्राचार्य ने कहा- यह शिकायत पहले मुझसे करना चाहिए थी। इतनी भीड़ क्यों ले आए यहां। मौसीम ने कहा- हम सुबह आए थे। आप स्कूल में नहीं थे, इसलिए दोपहर में आए हैं। दो दिन से मेरा बेटा स्कूल नहीं जा रहा था। मैंने पूछा तो उसने शिक्षिका की यह हरकत बताई।

पेरेंट्स लामबंद, महिला शिक्षक को हटाने की मांग

छात्र की दादी आयशा बेगम ने कहा- बच्चे ने पढ़ाई नहीं की थी तो दूसरों बच्चों की कॉपी लेकर उसका होमवर्क पूरा करवाना था लेकिन टीचर तो लड़कियों के दुपट्‌टे और चूड़ियां पहना रहे हैं। लड़कियों के दुपट्‌टे उतरवा कर रख रहे हैं। हमारे बच्चे को भी दुपट्‌टा बांध दिया और चूड़ियां पहना दी। बच्चे स्कूल आने से मना कर रहे हैं। विरोध के दौरान आसपास के क्षेत्र के लोग भी स्कूल पहुंच गए। 

सबको ऐसी ही सजा देतीं हैं महिला शिक्षक

घटना से पीड़ित कक्षा 7वीं के छात्र ने कहा- सना टीचर ने घर से होमवर्क करके लाने को कहा था लेकिन मैंने होमवर्क पूरा नहीं किया। सोमवार को स्कूल पहुंचा। पूछने पर टीचर ने खड़ा किया। बाजू वाले कमरे से किसी लड़की का दुपट्‌टा बुलवा कर मेरे सिर और चेहरे पर बांध दिया। हाथाें में चूड़ियां पहना दी। मैं उस दिन स्कूल में रोया। यह टीचर होमवर्क पूरा नहीं करने पर ऐसी ही सजा देती है। उस दिन कई लड़कों को लड़कियों के दुपट्‌टे बांधकर चूड़ियां पहनाई। लड़कियों के दुपट्‌टे खींच कर रख लिए। मुझसे पहले टीचर तीन और छात्रों को भी ऐसी सजा दे चुकी है। इस पर धमकाते हुए टीचर ने कहा- प्राचार्य को रिपोर्ट करोगे तो तुम्हें मारूंगी। इसलिए मैं डर गया था। इस बारे में घर पर भी कुछ नहीं बताया। 



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

;
Loading...

Suggested News

Popular News This Week

 
-->