Loading...

मप्र में 5000 कक्षाएं स्मार्ट क्लॉस, सभी बालिकाओं को नि:शुल्क उच्च शिक्षा: शिक्षा मंत्री | MP NEWS

भोपाल। उच्च शिक्षा मंत्री श्री जीतू पटवारी ने कहा है कि एक वर्ष में प्रदेशभर की 5 हजार क्लॉसों को स्मार्ट क्लॉस के रूप में विकसित किया जायेगा। शिक्षा में गुणात्मक सुधार के लिये ग्वालियर-चम्बल संभाग में 390 करोड़ की राशि मंजूर की गयी है। श्री पटवारी आज ग्वालियर में युवा संवाद कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।

शिक्षा प्रणाली में गुणात्मक सुधार के लिये कमेटी गठित

उच्च शिक्षा मंत्री ने कहा कि शिक्षा को रोजगारोन्मुखी बनाने की दिशा में सरकार प्रयासरत है। शिक्षा प्रणाली में गुणात्मक सुधार के लिये कमेटी का गठन किया गया है। कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर शिक्षा को रोजगारोन्मुखी बनाने की दिशा में कार्य किया जायेगा। श्री पटवारी ने कहा कि छात्र-छात्राओं को अध्ययन के बाद रोजगार भी उपलब्ध हो सके, इसके लिये नया पाठ्यक्रम तैयार किया जा रहा है।

जन-अदालतें लगेंगी

उच्च शिक्षा मंत्री ने कहा कि महाविद्यालय एवं विश्वविद्यालय की समस्याओं के निराकरण के लिये जन-अदालतें भी शीघ्र लगायी जायेगी। जिन समस्याओं का निराकरण स्थानीय स्तर पर नहीं हो सकता, उनका निराकरण शासन स्तर की जन-अदालतों में किया जायेगा। साथ ही, महाविद्यालयों एवं विश्वविद्यालयों में परीक्षाओं का टाइम-टेबल एक समान हो, इसके लिये भी सॉफ्टवेयर तैयार किया जा रहा है।

विशेष राहत

श्री पटवारी ने कहा कि एनसीसी, एनएसएस एवं खिलाड़ियों को परीक्षा में विशेष राहत देने के लिये विस्तृत प्लान तैयार किया जा रहा है।

बालिकाओं को नि:शुल्क शिक्षा

उच्च शिक्षा मंत्री ने कहा कि शासन द्वारा बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने के लिये आगामी शिक्षा सत्र से उच्च शिक्षा में अध्ययनरत सभी बालिकाओं को नि:शुल्क शिक्षा उपलब्ध कराने का निर्णय लिया गया है।