फिल्म URI The Surgical Strike क्यों देखना चाहिए, पढ़िए 5 बड़ी वजह | Film Review

11 January 2019

Uri The Surgical Strike Movie का Quick  Review आ गया है। बॉक्स ऑफिस पर फिल्म 'उरी- द सर्जिकल स्ट्राइक ' रिलीज होने के बाद पहले रिव्यूज अच्छे आ रहे हैं और दर्शकों को फिल्म पसंद आ रही है। यह देशभक्ति फिल्म है जो कि सच्ची घटनाओं पर आधारित है। फिल्म की कहानी सेना के एक ऐसे ऑपरेशन के बारे में बताता है जिसमें जवानों ने दुश्मन के घर में घुसकर अपने जवानों की शहादत का बदला लिया। फिल्म में विक्की कौशल, मोहित रैना, परेश रावल और यामी गौतम जैसे स्टार्स हैं। फिल्म का निर्देशन आदित्य धार ने किया है। जो इससे पहले बतौर लेखक काम करते थे। 

समीक्षकों ने बताईं 5 अच्छी बातें
फिल्म एक देश भक्ति फिल्म है। हमारे यहां ज्यादातर फिल्में युद्ध की कहानियों पर आधारित हैं। दावा किया गया है कि 'सर्जीकल स्ट्राइक' की सच्ची कहानी पर आधारित यह पहली फिल्म है। इस फिल्म में सेना के एक बेहद खास मिशन की बारीक डिटेल्स को भी पर्दे पर दिखाया गया है। जिसे जानने की इच्छा रखना और उसे 70mm के बड़े पर्दे पर देखना एक अलग ही अनुभव है।

फिल्म में इस मिशन की डिटेल्स को बेहद करीब से दिखाया गया है, इतना ही फिल्म में सिर्फ 28 सितंबर 2016 को हुई सर्जिकल स्ट्राइक ही नहीं बल्कि 3 अन्य सेना के बेहद कामयाब ऑपरेशन्स को दिखाया गया है जिसमें गुरदासपुर अटैक भी शामिल है।

फिल्म में एक से बढ़कर एक बेहतरीन कलाकार है और कहानी को बेहद बारीकी से लिखा गया है। एक्टर्स को जब तक आप पर्दे पर देखते हैं आपको एक पल के लिए भी ऐसा महसूस नहीं होता कि आप किसी फिल्म के हीरो को देख रहे हैं। बल्कि आपको उस कैरेक्टर में सेना का जवान और उसका जज्बा नजर आता है।

फिल्म में एक और खास बात है कि इस फिल्म का रूप देने के लिए क्रिएटिव लिबर्टी के नाम पर कहानी से छेड़छाड़ नहीं की गई है। आप पर्दे पर जवानों की उन चुनौतियों को देखते हैं जिनके बारे में आम आदमी शायद ही कभी जान पाता है या महसूस कर पाता है। फिल्म को देखने के बाद देश के जवानों के प्रति प्रेम और सम्मान यकनीन बढ़ जाएगा।

फिल्म में कहीं न कहीं राजनीति भी दिखाई गई है इसमें पीएम नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री राजनाथ सिंह और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल को भी खास अंदाज में दिखाया गया है। हालांकि इसे हिस्से को फिल्म में अगर शामिल भी नहीं किया जाता तो भी इसकी कहानी पर ज्यादा फर्क नहीं पड़ता। कुल मिलाकर ये कहा जा सकता है कि फिल्म सेना के शौर्य की शानदार कहानी को बयां करती है और इस फिल्म को जरूर देखा जाना चाहिए।

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->