Loading...

किसी नेता की औकात नहीं जो एक भी मुसलमान को पाकिस्तान भेज सके: शाहनवाज हुसैन | NATIONAL NEWS

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रवक्ता एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री शाहनवाज हुसैन ने राहुल गांधी के बहाने अपनी ही पार्टी के कट्टवादी नेताओं को खरी-खोटी सुना दीं। हुसैन ने कहा कि यहां आए दिन मुसलामानों को पाकिस्तान भेजने की धमकी दी जाती है। मैं मुस्लिम भाईयों से कहना चाहता हूं कि देश का संविधान और कानून इसकी इजाजत नहीं देता। भाजपा प्रवक्ता ने कड़े लहजे में कहा कि किसी नेता की औकात नहीं है कि वह एक भी मुसलमान को पाकिस्तान भेज सके। 

उन्होंने कहा कि आजादी के बाद हिन्दुस्तान का बंटवारा धार्मिक आधार पर हुआ था। मुसलमानों के सामने हिन्दुस्तान में रहने और पाकिस्तान जाने का खुला विकल्प था। जिन मुसलामानों को धर्म प्यारा था वे पाकिस्तान चले गए और जिन्हें देश प्यारा था वे हिन्दुस्तान में रह गए। उन्होंने कहा कि हिन्दुस्तान से अच्छा देश और यहां से अच्छा दोस्त नहीं मिल सकता। उन्होंने कहा कि देश में सच्चा सौहार्द उस दिन आएगा जब मुसलमान हिन्दू की थाली मे साथ बैठकर खाएगा और हिन्दू भी मुसलमान की थाली मे साथ बैठकर खाने में परहेज नहीं करेगा। 

इससे पहले उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा दुबई के आबूधाबी मे भारत के बारे में की गई टिप्पणी को दु:खद बताया है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी द्वारा यह कहना कि भारत मे असहिष्णुता ज्यादा है और वहां भीड़ लोगों को मार रही है, सही नहीं है। एक-दो घटनाएं घटी हैं, लेकिन उनकी संख्या नगण्य है और इन घटनाओं पर कानूनी कार्रवाई की गई है। उन्होंने कहा कि यहां किसी को इसकी इजाजत नहीं दी जा सकती है। हुसैन रविवार देर शाम यहां मंकर संक्रांति समारोह को संबोधित कर रहे थे। 

2014 के बाद बार-बार दोहराया गया था 'पाकिस्तान भेज देंगे'
बता दें कि 2014 में भारत में नरेंद्र मोदी सरकार गठित होने के बाद भाजपा के कट्टवादी नेताओं ने कई बार ऐसे बयान दिए जिसमें 'पाकिस्तान भेज देंगे' का उपयोग किया गया था। इसके अलावा 'जिसे... नहीं वो पाकिस्तान चला जाए' का उपयोग भी सैंकड़ों बार किया गया था। माना जा रहा है कि राहुल गांधी पर हमला करते करते शहनवाज ने अपनी ही पार्टी के कट्टवादियों को निशाने पर ले लिया।