Advertisement

मध्यप्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा होगी भी या नहीं! | MP NEWS



भोपाल। पूर्ववर्ती शिवराज सिंह सरकार ने 11 साल बाद शिक्षक पात्रता परीक्षा का ऐलान किया था। परीक्षा के लिए आवेदन लिए गए थे। करीब 7 लाख लोग फीस जमा करा चुके हैं। पहले चुनाव आचार संहिता के नाम पर परीक्षा आयोजित नहीं की गई। प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड भोपाल ने 29 दिसम्बर से परीक्षा के​ लिए शेड्यूल जारी किया तो नई सरकार ने उसे 1 माह के लिए स्थगित कर दिया। इधर 35000 स्कूलों का मर्जर शुरू कर दिया गया। 17 दिन बीत गए, अब तक नई परीक्षा डेट घोषित नहीं हुई। अब तो संदेह होने लगा है। मध्यप्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा होगी भी या नहीं! 

29 दिसंबर से शुरू होने वाली शिक्षक पात्रता परीक्षा को प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड ने 21 दिसंबर 2018 को एक माह के लिए स्थगित कर दिया था। अब तक पूरे 17 दिन निकल गए हैं, सिर्फ 13 दिन बचे हैं। लेकिन अब तक यह स्पष्ट नहीं किया गया है कि यह परीक्षा कब से होगी और उसका पूरा शेड्यूल क्या रहेगा। करीब 6.50 लाख आवेदक परीक्षा का इंतजार कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर तरह-तरह के मैसेज भी वायरल हो रहे हैं, जिनमें परीक्षा को लेकर सवाल खड़े किए जा रहे हैं। पीईबी और सरकार के पास इस बारे में अब तक कोई ठोस जवाब नहीं ​है। 

अतिथि शिक्षकों के नाम पर अटकी है परीक्षा ? 
गौरतलब है भाजपा सरकार ने पीईबी के माध्यम से चुनाव के पहले उच्च माध्यमिक शिक्षक और माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा का विज्ञापन जारी कराया था। उच्च माध्यमिक शिक्षक के 19220 और माध्यमिक शिक्षक के 11374 पद हैं। परीक्षा की तारीख भी घोषित हो गई थी। इसी बीच सत्ता परिवर्तन हो गया और कांग्रेस सरकार आ गई। कांग्रेस ने अपने वचन पत्र में व्यापमं जैसे परीक्षा एजेंसी को बंद करने कहा था। साथ ही अतिथि शिक्षकों के मामले का निराकरण भी 3 माह में करने की बात कही थी। यहीं से पेंच फंसा और परीक्षा उलझ गई। 

कोचिंग संचालक ने परीक्षार्थियों से धोखाधड़ी शुरू कर दी
भर्ती परीक्षा का विज्ञापन जारी होने के साथ से ही कोचिंग संचालकों ने लुभावने वादे दिए कि परीक्षा होने तक उनके यहां आने वाले अभ्यर्थियों की तैयारी कराई जाएगी। इसके एवज में मनमानी एकमुश्त फीस भी वसूली। लेकिन जैसे ही परीक्षा का शेड्यूल बदला कई कोचिंग संचालकों के सुर बदल गए। इस संबंध में कई कोचिंग के विद्यार्थी लगातार शिकायतें भी कर रहे हैं। छात्र संगठन भी मामले में कोचिंग संचालकों की वादाखिलाफी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने की योजना बना रहे हैं। 

प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड का बयान
उच्चतर माध्यमिक शिक्षक व माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा की नई डेट अब तक हमारे पास नहीं आई है। शासन से फिलहाल इस संबंध में कोई आदेश जारी नहीं हुआ है। आवेदकों को किसी भी भ्रमित जानकारी को लेकर परेशान नहीं होना चाहिए। कुछ ही दिनों में स्थिति स्पष्ट हो जाएगी।
एकेएस भदौरिया, परीक्षा नियंत्रक, पीईबी 

भोपाल समाचार डॉट कॉम की अपील
मध्यप्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा की हर खबर हम नियमित रूप से अपने पाठकों तक पहुंचा रहे हैं। भोपाल समाचार डॉट कॉम यह अपील करता है कि कृपया सोशल मीडिया पर आने वाले किसी भी संदेश को ध्यान पूर्वक पढ़ें परंतु उस पर कतई विश्वास नहीं करें। इस परीक्षा के संदर्भ में हर आधिकारिक जानकारी का हम नियमित प्रकाशन करेंगें।