MP में प्रोफेसर्स का वेतन 1.82 लाख रुपए प्रतिमाह, 7th PAY SCALE के आदेश | EMPLOYEE NEWS

भोपाल। प्रदेश के महाविद्यालयों के प्राध्यापकों को सातवां वेतनमान देने का आदेश यूजीसी ने जारी कर दिया है। इससे प्रदेश के प्रोफेसरों के वेतन में 10 से 15 फीसदी का इजाफा होगा। फायदा प्रदेश के 6 हजार से अधिक प्राध्यापकों को मिलेगा। 

आदेश जारी होने के बाद से प्राध्यापक संघ में खुशी की लहर है। सातवां वेतनमान मिलने से प्रोफेसरों को हर माह 1.82 लाख रुपए वेतन होगा। अभी उन्हें 1 लाख 10 हजार रुपए वेतन मिलता है। वहीं, असिस्टेंट प्रोफेसर और ग्रंथपाल व क्रीड़ा अधिकारी का वेतन 1.31 लाख रुपए हो जाएगा। वेतनमान की विशेष बात यह है कि इसमें 1 जनवरी 2016 से 31 दिसंबर 2018 तक की राशि जनरल प्रोविडेंट फंड अकाउंट ( GPF ) में जमा होगी और 1 जनवरी 2019 से नकद राशि वेतन के साथ प्राप्त होगी। 

प्रांतीय महाविद्यालयीन प्राध्यापक संघ महासचिव डॉ कैलाश त्यागी, डॉ आनंद शर्मा, डॉ प्रभात पांडेय ने इसके लिए मुख्यमंत्री कमलनाथ, उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी, प्रमुख सचिव नीरज मंडलोई के प्रति कृतज्ञता ज्ञापित की है।