Loading...

MOTN के अनुसार अमित शाह हैं नरेंद्र मोदी के उत्तराधिकारी | NATIONAL NEWS

लोकसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान में अब कुछ हफ्तों का समय बचा है। चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता को लेकर तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे हैं। वहीं, एनडीए सरकार के भीतर भी पीएम पद के लिए नरेंद्र मोदी के विकल्‍प को लेकर बहस शुरू हो गई है। हाल ही में एनडीए गठबंधन की शिवसेना ने सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी को पीएम पद के योग्‍य बताया है तो वहीं कई हिंदूवादी संगठन यूपी के सीएम योगी आदित्‍यनाथ को पीएम बनाने की मांग कर रहे हैं लेकिन देश का मिजाज कुछ और ही कहता है।

क्‍या है जनता का मिजाज  
दरअसल, आजतक ने कार्वी इनसाइट्स के साथ अपने सर्वे में देश का मिजाज जाना। सर्वे में इस सवाल का जवाब तलाशने की कोशिश की गई कि बीजेपी या संघ परिवार में बतौर प्रधानमंत्री उम्‍मीदवार नरेंद्र मोदी का विकल्‍प कौन बन सकता है। इस सवाल का जो जवाब मिला वो बेहद चौंकाने वाला है। सर्वे के मुताबिक प्रधानमंत्री पद के लिए नरेंद्र मोदी के विकल्‍प के तौर पर बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह सबसे अच्छे उम्‍मीदवार हैं। वहीं, इस रेस में यूपी के सीएम योगी आदित्‍यनाथ दूसरे और देश के गृह मंत्री राजनाथ सिंह तीसरे स्‍थान पर हैं। जबकि इस सूची में वित्‍त मंत्री अरुण जेटली चौथे और नितिन गडकरी 5वें स्‍थान पर हैं।

22 फीसदी लोग अमित शाह के साथ
बीजेपी के चाणक्‍य के तौर पर पहचान बनाने वाले अमित शाह को 22 फीसदी लोग प्रधानमंत्री उम्‍मीदवार के तौर पर देखना पसंद करते हैं। वहीं 16 फीसदी लोग चाहते हैं कि योगी आदित्‍यनाथ को बीजेपी के पीएम पद का उम्‍मीदवार बनाया जाए। जबकि 13 फीसदी लोग राजनाथ सिंह के साथ हैं। अरुण जेटली को 12 फीसदी और नितिन गडकरी को 11 फीसदी लोग पीएम पद के उम्‍मीदवार के तौर पर देखना चाहते हैं।

बढ़ती जा रही अमित शाह की लोकप्रियता
भले ही 2018 में राजस्‍थान, मध्‍य प्रदेश और छत्‍तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में बीजेपी को हार मिल गई हो लेकिन पार्टी के अध्‍यक्ष अमित शाह की लोकप्रियता का ग्राफ बढ़ता ही जा रहा है। अगस्‍त 2017 तक सिर्फ 4 फीसदी लोगों की नजर में अमित शाह पीएम पद के योग्‍य उम्‍मीदवार थे तो वहीं यह ग्राफ 2018 में 4 गुना से भी ज्‍यादा बढ़ गया। जनवरी 2018 में 18 फीसदी लोगों ने अमित शाह को बतौर पीएम पद का उम्‍मीदवार माना तो वहीं अगस्‍त 2018 में यह आंकड़ा 1 फीसदी घट गया। जबकि जनवरी 2019 तक 22 फीसदी लोगों की नजर में पीएम पद के योग्‍य उम्‍मीदवार हैं।

शिवराज सिंह चौहान भी रेस में
मध्‍यप्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी बीजेपी के पीएम उम्‍मीदवार की दौड़ में शामिल हैं। सर्वे के मुताबिक 5 फीसदी लोग उन्‍हें पीएम पद के उम्‍मीदवार के तौर पर देखना चाहते हैं। वहीं सर्वे में लोगों ने रेल मंत्री पीयूष गोयल, विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज, संघ सरसंचालक मोहन भागवत, गोवा के सीएम मनोहर पर्रिकर और पूर्व डिप्‍टी पीएम लाल कृष्‍ण आडवाणी पीएम उम्‍मीदवार के तौर पर योग्‍य नहीं माना है। जबकि अन्‍य उम्‍मीदवारों के साथ 3 फीसदी लोग खड़े हैं। जबकि 17 फीसदी लोगों ने इस सवाल का जवाब नहीं दिया. बता दें कि सर्वे में 12, 166 लोगों से सवाल पूछे गए।