LOKSABHA CHUNAV HINDI NEWS यहां सर्च करें





BIG NEWS: ग्वालियर मेले में 50% की छूट मंजूर, मंत्री ने किए हस्ताक्षर | BUSINESS NEWS

01 January 2019

भोपाल। सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ( MP Jyotiraditya Scindia ) ने ग्वालियर व्यापार मेले ( Gwalior Trade Fair ) का गौरव लौटा दिया है। सिंधिया के निर्देश पर मध्यप्रदेश शासन के राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ( Revenue and Transport Minister Govind Singh Rajput ) ने मेले में वाहनों की बिक्री पर 50% की टैक्स छूट का ऐलान कर दिया है। मंत्री राजपूत ने अपना पदभार ग्रहण करते ही सबसे पहले इसी फाइल पर हस्ताक्षर किए। बता दें कि करीब 20 साल पहले तक ग्वालियर व्यापार मेला देश का सबसे बड़े Automobile Fair की शक्ल ले चुका था। कंपनियां इसी मेले में नए मॉडल लांच करतीं थीं और छूट के कारण मेला अवधि के दौरान रिकॉर्ड बिक्री होती थी। 
सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मुख्यमंत्री कमलनाथ से मांग की थी कि राज्य सरकार ग्वालियर व्यापार मेले को बढ़ावा देने के लिए रोड टेक्स में 50 फीसदी की छूट दे। परिवहन मंत्री गोविंद सिंह ने कहा कि ग्वालियर मेले का इतिहास वैभवशाली रहा है, लेकिन भाजपा के सत्ता में आने के बाद मेले को दी जाने वाली टेक्स में छूट को बंद कर दिया था। इस वजह से ग्वालियर मेले की रौनक कम हुई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के सत्ता में आने के बाद अब फिर मेले के लिए छूट दी जा रही है।

अब Cabinet में लगेगी मुहर, 105 साल पुराना है मेले का इतिहास

मंत्री गोविंद सिंह ने कहा कि सरकार ग्वालियर मेले में रोड टेक्स में 50 फीसदी की छूट देने जा रही है, जिसका प्रस्ताव तैयार कर लिया गया है। इसे कैबिनेट की बैठक में रखा जाएगा। 105 साल के इतिहास के साथ, ग्वालियर व्यापार मेले में 104 एकड़ में विशाल और आधुनिक मेला आयोजित किया जाता है। 5000 मंडप और दुकानें शो रूम और प्रदर्शनियों के लिए तैयार करने के लिए उपलब्ध हैं। मेला परिसर में एक स्वतंत्र पावर सब-स्टेशन, पानी की व्यवस्था, HOSPITAL, Police Station, BANK और अन्य आधुनिक सुविधाएं हैं। ग्वालियर व्यापार मेला मध्य प्रदेश का उत्तरी भारत में सबसे बड़ा व्यापार मेला है। यह 1905 में ग्वालियर महाराज माधव राव सिंधिया के राजा द्वारा शुरू किया गया था। 



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Suggested News

Loading...

Advertisement

Popular News This Week

 
-->