Loading...

भरी बैठक में मंत्री ने किसान हेल्पलाइन का रियलिटी चेक किया, जवाब ने सारी पोल खोल दी | MP NEWS

इंदौर। झाबुआ के प्रभारी मंत्री सुरेन्द्र हनी बघेल की पहली ही बैठक में प्रशासन की सारी पोल खुल गई। मंत्री सुरेन्द्र हनी बघेल ने किसान हेल्पलाइन का रियलिटी चेक किया वहां से जो जवाब मिला वो चौंकाने वाला था। कलेक्टर को शर्मसार कर गया। 

बैठक में बताया गया कि योजनाओं को लेकर जिला प्रशासन की ओर से एक हेल्प लाईन जारी किया गया है। प्रभारी मंत्री ने बैठक में ही इसका रियलिटी चेक किया तो हेल्पलाईन नंबर किसी तरह की जानकारी नहीं मिली। हेल्प लाईन के रियलिटी चैक के लिए मंत्री बघेल ने कांग्रेस नेता विक्रांत भूरिया को कॉल करने को कहा तो पहली बार जवाब मिला की आवाज़ नहीं मिल रही है। दूसरी बार कॉल करने पर टेलिऑपरेटर ने कहा कि उन्हें इसकी जानकारी नहीं है, सर से बात करना पड़ेगी। 

मध्य प्रदेश में झाबुआ के प्रभारी मंत्री बनने के बाद सुरेन्द्र हनी बघेल पहली बार झाबुआ पहुंचे। यहां स्थानीय सर्किट हाऊस पर कांग्रेसी नेता और कार्यकर्ताओं ने गर्मजोशी के साथ उनका स्वागत किया। प्रभारी मंत्री बघेल ने कलेक्ट्रेट ऑफिस पहुंचकर विभागीय समीक्षा बैठक ली। किसानों की कर्ज माफी योजना को लेकर उन्होंने सभी अधिकारियों से कहा कि किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि जनआकाक्षांओ पर खरा उतरना सरकार की पहली प्राथमिकता है।