LOKSABHA CHUNAV HINDI NEWS यहां सर्च करें





82 साल बाद आई है ऐसी ठंड, 13 जिलों में चेतावनी जारी | MP NEWS

16 December 2018

भोपाल। खजुराहो में हाड़ कंपा देने वाली सर्दी पड़ रही है। यहां का न्यूनतम तापमान 2.8 डिग्री पर पहुंच गया। ग्वालयिर-चंबल संभाग में कड़ाके की ठंड के साथ कोहरे का कहर भी जारी है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में प्रदेश के 13 जिलों में शीतलहर की चलने की संभावना जताई है। इस दौरान करीब 16 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी। कहीं-कहीं बूंदा-बांदी भी हो सकती है। 

उत्तर पूर्व से आ रही सर्द हवा से प्रदेश में ठंड तेज हो गई है। रविवार को भोपाल में कोल्ड डे रहा। बीती रात राजधानी ने पारे ने और गोता मारा और ये 8.6 डिग्री पर पहुंच गया। करीब पांच किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से चली हवाओं ने सिहरन पैदा कर दी। मौसम विशेषज्ञ एसके नायक के अनुसार भिंड, मुरैमा, ग्वालियर, दतिया, बैतूल, धार, खंडवा, रतलाम, सिवनी, जबलपुर, सागर, टीकमगढ़, छतरपुर जिलों में अगले 24 घंटे में शीतलहर चल सकती है। जबलपुर, मंडला में हल्की बारिश होने का अनुमान है। 

ग्वालियर: 50 से अधिक ट्रेनें लेट

रविवार की सुबह कड़ाके की ठंड ने लोगों को बेहाल कर दिया। कोहरे का असर शनिवार को ट्रेनों पर देखा गया। नई दिल्ली-झांसी रूट की 50 से अधिक ट्रेने लेटलतीफी का शिकार रहीं। भोपाल और इटारसी के बीच ब्लॉक कार्य के चलते भोपाल की ओर से आने वाली ट्रेनों की चाल भी बिगड़ चुकी है। दिल्ली की ओर पड़ रहे कोहरे के चलते शनिवार को दिल्ली से ग्वालियर आने वाली झेलम एक्सप्रेस 2 घंटे 12 मिनट की देरी से ग्वालियर आई।

इंदौर: पहली बार पारा 9 डिग्री

शुक्रवार के बाद शनिवार का दिन भी शहर में कोल्ड डे रहा। रात का तापमान 10 से लुढ़ककर 9.6 डिग्री तक जा पहुंचा। सीजन में पहली बार पारा 9 डिग्री तक पहुंचा है। अधिकतम तापमान भी सामान्य से 5 डिग्री कम 22.5 डिग्री रहा। 18 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से कंपकंपा देने वाली हवा ने धूप में गर्माहट के एहसास को भी कम कर दिया। एेसा ही मौसम रविवार को भी रहेगा। 10 साल से दिसंबर में मौसम का मिजाज ऐसा ही रहा है। 

उत्तर भारत में जोरदार बर्फबारी : 

उत्तर भारत में बर्फबारी के कारण प्रदेश में ठंड असर दिखा रही है। उत्तर की ओर से आ रही बर्फीली हवा ने पूरे प्रदेश को चपेट में ले रखा है। दतिया, भिंड, मुरैना, ग्वालियर तरफ तो सुबह 10 बजने तक कोहरा छाया रहता है। शहर में भी सुबह सात बजे तक कहीं-कहीं कोहरा नजर आ रहा है। 

82 साल बाद पड़ रही है ऐसी ठंड

27 दिसंबर 1936 को इंदौर में न्यूनतम तापमान 1.1 डिग्री रिकॉर्ड किया गया था। 82 साल में इतनी नीचे पारा कभी नहीं गया। 10 साल के आंकड़े देखें तो 17 दिसंबर 2014 को न्यूनतम तापमान 5 डिग्री रिकॉर्ड किया गया था। 

इसलिए बदला मौसम

कश्मीर में बर्फ पिघलने के बाद उत्तर भारत से सीधी सर्द हवा आ रही है।
हिमालय की तराई में या आसपास अभी ऐसा कोई सिस्टम नहीं है जाे यह ठंडी हवा आने से रोक सके।
हिंद महासागर एवं उससे सटे दक्षिण भारत के इलाकों में साइक्लोनिक स्टार्म बना है। इसके कारण हवाएं बिना रुके यहां पहुंच रही हैं।



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Suggested News

Loading...

Advertisement

Popular News This Week

 
-->