पुलिस इंस्पेक्टर ने RAPE पीड़िता का रेप किया, शपथपत्र लिखवाया, मर्जी से संबंध | NATIONAL NEWS

25 November 2018

भिवंडी। महाराष्ट्र में रेप के आरोपी एक पुलिस इंस्पेक्टर की तलाश की जा रही है। 34 साल के पुलिस अधिकारी पर आरोप है कि वह रेप पीड़िता (23) के साथ पिछले एक साल से ब्लैकमेल कर रेप कर रहा था जिसके मामले की जांच वह खुद कर रहा था। उसके साथ ब्लैकमेल की शुरुआत तब हुई जब उसने रेप के आरोप से अपने बॉयफ्रेंड सतीश (28) का नाम हटाने की मांग की थी। 

शादीशुदा से कर बैठी प्यार

महिला की मुलाकात सतीश से भिवंडी में तब हुई थी जब वह अपनी चाची से मिलने 2015 में उनके पास गई थी। सतीश की सेलफोन की दुकान है। दोनों दोस्त बन गए और सतीश द्वारा शादी का वादा करने पर दोनों के बीच शारीरिक संबंध बन गए। महिला को पता चला कि सतीश शादीशुदा है और दो बच्चों का बाप है तो उसने उससे दूरी बना ली, लेकिन दोबारा सतीश ने बहला-फुसलाकर संबंध बनाए रखा। 2015-18 के बीच सतीश ने दो बार उसका गर्भपात भी कराया। 

पुरानी प्रेमिका ने बंधक बनाकर RAPE करवाया

कुछ समय बाद सतीश की पुरानी गर्लफ्रेंड राबिया को दोनों के रिश्ते के बारे में पता चला और फिर उसने पीड़िता को धमकाया। महिला ने शिकायत में कहा कि राबिया ने उसे घर से बाहर बात करने बुलाया। राबिया ने उसे जूस पीने दिया जिसमें नशीला पदार्थ मिला था। उसके बाद राबिया के दोस्त सलीम करवी ने उसके साथ रेप किया। राबिया ने रेप का विडियो बना लिया और महिला को ब्लैकमेल करना शुरू किया और उससे 50,000 रुपये मांगे। पीड़िता डर गई और उसने उसे 43 हजार रुपये दे दिए। 

पुलिस ने प्रेमी को भी आरोपी दर्ज कर लिया

अवसादग्रस्त पीड़िता खडवली नदी में कूदकर आत्महत्या करने की सोच रही थी। उसने यह बात अपनी सहेली को बताई तो उसने उसे हिम्मत बंधाई और पुलिस में शिकायत दर्ज करने की बात कही। इसके बाद पीड़िता ने कुलाबा पुलिस के सहयोग से तीनों के खिलाफ मामला दर्ज करा दिया। पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर लिया। सतीश की गिरफ्तारी के बाद पीड़िता पलट गई। उसने पुलिस और कोर्ट में बयान दिया कि सतीश उसका प्रेमी है और उसने रजामंदी से उसके साथ शारीरिक संबंध बनाया। 

जांच अधिकारी ने पीड़िता को दी जेल भेजने की धमकी

सतीश के खिलाफ दर्ज रेप के मामले को वापस लेने के लिए वह शांतिनगर पुलिस से मांग करने लगी। पुलिस ने तीनों आरोपियों को जेल भेज दिया था। इस मामले की जांच कर रहे शांतिनगर पुलिस स्टेशन के पुलिस उप निरीक्षक रोहन गोंजारी ने पीड़िता से कहा कि तुमने गलत मामला दर्ज कराया था, इसलिए तुम्हारे खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। उसने पीड़िता को धमकी देते हुए कहा कि कार्रवाई से बचना है तो हमारे साथ भी शारीरिक संबंध बनाओ। 

रेप किया और हलफनामा लिखवाया सबकुछ मर्जी से हुआ

गोंजारी 8 अगस्त को महिला को कल्याण के एक लॉज ले गया और उसका रेप किया। इसके पहले उसने एक डायरी पर हस्ताक्षर सहित लिखवा लिया कि वह अपनी मर्जी से शारीरिक संबंध बना रही है। गंजारी उसके बाद उससे नियमित रूप से अपने पास बुलाने लगा और जब महिला तंग आ गई तो उसने गुरुवार को गंजारी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। महिला की शिकायत से कुछ दिन पहले ही गोंजारी शहर से भाग गया। उसके परिवार को भी नहीं पता कि वह कहां है।

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->