कांग्रेस की चार पीढ़ियां जो नहीं कर पाईं, चाय बेचने वाले ने चार सालों में कर दिया: मोदी | MP NEWS

16 November 2018

शहडोल। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि कांग्रेस में एक ही परिवार की चार पीढ़ियों ने जितना विकास अब तक नहीं किया, उतना काम भाजपा की सरकार ने और एक चाय बेचने वाले ने चार वर्षों में कर दिया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश में होने वाला विधानसभा का चुनाव और अगले साल होने वाला लोकसभा का चुनाव विकास के नाम पर होना चाहिए। यह चुनाव चार पीढ़ी बनाम चार साल और 54 साल बनाम 15 साल के विकास कार्यों पर होना चाहिए। प्रधानमंत्री शुक्रवार को शहडोल में भाजपा प्रत्याशियों के पक्ष में आयोजित सभा को संबोधित कर रहे थे।

मध्यप्रदेश का भविष्य तय करेगा यह चुनाव
प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण की शुरूआत जय बड़ादेव और नर्मदे हर के साथ की। इसके बाद उन्होंने उपस्थित जनसमूह से राम-राम की। उन्होंने कहा कि अब देश-प्रदेश में जात-पांत के नाम पर बहुत चुनाव हो गए, सांप्रदायिकता के नाम पर बहुत चुनाव हो गए, पीढ़ियों के नाम पर बहुत चुनाव हो गए। उन्होंने कहा कि यह चुनाव इस बात के लिए नहीं है कि कौन विधायक बने कौन नहीं बने, कौन दल जीते कौन नहीं जीते, कौन की सरकार बने कौन की नहीं बने। यह चुनाव देश-प्रदेश का क्या भविष्य होगा, इसका फैसला करने के लिए है। उन्होंने कहा कि यह चुनाव मध्यप्रदेश का भविष्य क्या होगा, इसका फैसला करने के लिए है। हम हमारे बच्चों को कैसा मध्यप्रदेश देना चाहते हैं, इसका निर्णय इस चुनाव में प्रदेश की जनता को करना है।

कांग्रेस ने 54 सालों में क्या किया, यह सवाल पूछे जनता
प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि जब मैं गुजरात का मुख्यमंत्री था, उस समय मैं मध्यप्रदेश के कार्यों को सुनने के लिए उत्सुक रहता था कि अब मध्यप्रदेश में क्या नया काम, क्या नई योजना शुरू होने वाली है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मध्यप्रदेश को विकास का मॉडल बनाया है। यहां की कई योजनाओं को दूसरे राज्यों ने शुरू किया है। प्रधानमंत्री ने कहा है कि आजादी के 75 वर्षों में से 54 वर्षों तक मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकारें रहीं। उन्होंने कहा कि इन 54 सालों में मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकारों ने क्या विकास किया है, यह सवाल प्रदेश की जनता को उनसे पूछना चाहिए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस 54 सालों में जितने गरीबों को पक्के मकान नहीं दे सकी, उससे कहीं ज्यादा इन 15 वर्षों में भाजपा की सरकार ने बनाए हैं। प्रधानमंत्री आवास योजना के मध्यप्रदेश में 12 लाख पक्के घरों की चाबी हम लोगों को सौंप चुके हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश में बहन-बेटियों की सुरक्षा का कानून बनाने वाला पहला राज्य मध्यप्रदेश है। यहां पर दरिंदों को 5 दिनों के अंदर फांसी पर चढ़ाया गया है। उन्होंने कहा कि जनता-जनार्दन को विश्वास तब होता है जबकि सरकारें काम करती हैं, समाज के अंदर व्याप्त बुराइयां समाप्त होती हैं और इन बुराइयों को समाप्त करने में भाजपा की सरकारों ने बेहतर काम किया है।

मुझसे हिसाब मांगिए, पाई-पाई का हिसाब दूंगा
प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आप लोग संकोच मत कीजिए और मुझसे भी साढ़े चार वर्षों का हिसाब मांगिए। मैं पाई-पाई का हिसाब दूंगा। उन्होंने कहा कि एक ही परिवार की चार पीढ़ियों ने देश को क्या दिया और एक चाय वाले ने साढ़े चार साल में क्या दिया, इसका मुकाबला भी हो जाए। उन्होंने कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि इनका हाल मुंह में राम बगल में छुरी जैसा है। ये लोग हर जगह झूठ बोलते हैं, मध्यप्रदेश में भी इन्हें गुस्से के सिवाए कुछ नहीं सूझ रहा है। यहां पर ये सिर्फ गुस्सा बता रहे हैं।

झूठ बोलकर जीतती रही कांग्रेस
प्रधानमंत्री ने कहा कि अब समझ में आ रहा है कि कांग्रेस इतने वर्षों तक जीतती क्यों रही? उन्होंने कहा कि पहले विरोधी दल की ताकत कमजोर हुआ करती थी, मीडिया इतना सक्रिय नहीं था और सोशल मीडिया तो था ही नहीं। इसलिए कांग्रेस के लोग जो झूठ परोसते थे उसे ही जनता तक पहुंचाया जाता था। ये झूठ के कारोबारी और जीत के शंहशाह सिर्फ जनता को गुमराह करके ही सत्ता हासिल करते रहे, लेकिन अब विपक्ष मजबूत है, मीडिया सक्रिय है और सोशल मीडिया तो उससे भी ज्यादा सक्रिय है, इसलिए इनकी झूठ की दुकानें बंद हो गईं हैं। इसीलिए अब इन्हें गुस्सा आ रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि पहले गैस के कूपन के लिए कांग्रेस के राज दरबार में सांसदों को मनुहार करनी पड़ती थी,  कि गैस के कूपन दे दो। एक-एक सांसद को 25-25 गैस के कूपन मिलते थे, लेकिन हमारी सरकार ने प्रदेश के हर घर तक गैस पहुंचाने की व्यवस्था की है। हमने देशभर में 8 करोड़ गैस सिलेंडर देने का लक्ष्य तय किया था और हर घर तक इन्हें पहुंचाया है।

18 वीं सदी की तरह जी रहे थे लोग
प्रधानमंत्री ने कहा कि 21 वीं शताब्दी के प्रारंभिक दौर में भी प्रदेश की जनता को 18 वीं शताब्दी की तरह जीवन जीना पड़ रहा था। उन्हें न तो पर्याप्त बिजली मिल पाती थी और न ही बेहतर सड़कें। प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने सिर्फ शहडोल में 40 हजार परिवार जो अंधेरे की जिंदगी में जीते थे, उनके घरों में बिजली दी है। जितने शौचालय एक ही परिवार की चार पीढ़ियां अब तक नहीं बना सकी उससे कहीं ज्यादा हमने चार वर्षों में बनाकर दे दिए हैं। अब माताएं-बहनों को शौच के लिए बाहर नहीं जाना पड़ता है।

नोटबंदी में बाहर आया, नेताओं के बिस्तरों में छुपा पैसा
प्रधानमंत्री ने कहा कि लोग सोचते हैं, पूछते हैं कि इस चाय बेचने वाले के पास इतना पैसे कहां से आ गया है कि यह इतने काम करवा रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की चार पीढ़ियों से जो पैसा इनके नेताओं ने बिस्तरों के नीचे छुपा रखा था, बोरियां में भरकर रख रखा था, कमरों में भरकर रख रखा था उस पैसे को नोटबंदी करके बाहर निकलवाया है। अब ये विकास के कार्य उसी काली कमाई के बाहर आने से हो रहे हैं। ये पैसा देश की आम जनता का पैसा है। अब देश-प्रदेश में कोई नहीं रो रहा है, सिर्फ अकेली कांग्रेस रो रही है, क्योंकि उनकी चार पीढ़ियों का जमा किया हुआ पैसा चला गया है।

जिन्होंने वादे किए उनसे पूछिए
प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि स्व. इंदिराजी ने गरीबी हटाओ के नारे के साथ सत्ता में आने का वादा किया था, लेकिन आज तक गरीबी हटाई क्या ? उन्होंने कहा कि स्व. इंदिरा गांधी ने बैंकों का राष्ट्रीयकरण गरीबों के नाम पर किया था, लेकिन आज तक गरीब बैंकों तक नहीं पहुंच सके। हमने पिछले चार वर्षों में हर एक गरीब का बैंकों में खाता खुलवाकर उसके खातों में पैसा जमा कराया है।

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->