मप्र की खुफिया ऐजेंसी की रिपोर्ट: अबकी बार सिंधिया सरकार | MP NEWS

03 November 2018

भोपाल। मध्यप्रदेश शासन की खुफिया ऐजेंसी स्टेट इंटेलिजेंस डिपार्टमेंट (राजकीय अभिसूचना विभाग) की रिपोर्ट दावा करती है कि इस बार मप्र में शिवराज सिंह सरकार नहीं बचेगी। ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रभाव वाले क्षेत्रों में भाजपा का सूपड़ा साफ होने की उम्मीद है। इसके अलावा कमलनाथ और अजय सिंह के प्रभाव वाली सीटों पर भी भाजपा को भारी नुक्सान होगा। इन सीटों पर बसपा व सपा के कारण कांग्रेस का ग्राफ थोड़ा सिमट जाएगा। रिपोर्ट यह भी कहती है कि दिग्विजय सिंह की काफी सारी सीटों पर कांग्रेस के लिए कोई खास माहौल नहीं है। इंडिया टुडे ने यह दावा किया है कि इस तरह की एक रिपोर्ट उसके पास है जो 30 अक्टूबर को सीएम शिवराज सिंह के सामने पेश की गई थी। इसमें कांग्रेस को 128 और भाजपा को 92 सीट मिलने की संभावना जताई गई है। बसपा और सपा के समर्थन से कांग्रेस की सरकार बन सकती है। 

सरकारी खुफिया रिपोर्ट के अनुसार विधानसभा चुनाव 2018 में बीजेपी को केवल 92 सीटों पर सिमटकर रह जाएगी। बसपा 6 और सपा 03 सीटों और गोंडवाना गणतंत्र पार्टी 01 सीट पर जीतती दिखाई दे रही है। रिपोर्ट में कहा गया है कि मध्य प्रदेश सरकार में मंत्री रुस्तम सिंह, माया सिंह, गौरी शंकर शेजवार, सूर्य प्रकाश मीणा समेत 10 मंत्री को चुनाव जीतना इस बार मुश्किल हो सकता है। मुख्यमंत्री शिवराज के करीबी माने जाने वाले सूर्य प्रकाश मीणा ने भी इस रिपोर्ट के आने के दो दिन बाद यानी 1 नवंबर को ही चुनाव लड़ने से मना कर दिया था। गौरीशंकर शेजवार ने अपना टिकट अपने बेटे को दे दिया जबकि माया सिंह का टिकट काट दिया गया। 

सिंधिया के क्षेत्र में भाजपा को सबसे ज्यादा नुक्सान
रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि कांग्रेस को चुनाव में सबसे ज्यादा फायदा ग्वालियर-चंबल डिविजन से होगा। क्योंकि यहां कि 34 में से 24 सीटों पर कांग्रेस को जीत हासिल हो सकती है। जबकि बीजेपी को केवल 7 सीट ही मिल सकती है। वहीं, बसपा के खाते में 3 सीट जाने की बात कही जा रही है। बुंदेलखंड की बात की जाए तो रिपोर्ट में बीजेपी को 26 में से 13 और कांग्रेस को 12 सीट मिलने की बात कही जा रही है। वहीं, सपा यहां एक सीट जीत सकती है। मालवा निमाड़ में भाजपा का सूपड़ा साफ: किसान आंदोलन से प्रभावित हुए मालवा निमाड़ इलाके में भी कांग्रेस को फायदा मिलता दिख रहा है। यहां कांग्रेस 34 तो बीजेपी 32 सीट जीत सकती है।

अजय सिंह भी आगे निकलेंगे
विंध्याचल में भी कांग्रेस को फायदा मिलने की बात कही जा रही है। यहां की 30 सीटों में से 18 पर कांग्रेस और केवल 9 सीटों पर बीजेपी जीत सकती है। जबकि तीन सीटों पर बसपा आ सकती है।

फायदा कमलनाथ के इलाके में भी होगा
रिपोर्ट में महाकौशल क्षेत्र में भी कांग्रेस को बढ़त बताई गई है। यहां 38 में से 22 सीटों पर कांग्रेस और बीजेपी को 13 सीट मिल सकती है। बाकी सपा दो सीट और जीजीपी पार्टी एक सीट पा सकती है।

सिर्फ मध्यभारत में भाजपा मुकाबले के लायक
हालांकि, मध्य भारत में बीजेपी और कांग्रेस के बीच बराबरी का मुकाबला है। यहां दोनों पार्टी 18-18 सीट जीत सकती है। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week