LLB STUDENT का पति ही फर्जी निकला, करवाचौथ की रात लिखाई FIR | INDORE NEWS

इंदौर। मजिस्ट्रेट की परीक्षा की तैयारी कर रही एलएलबी की छात्रा कनिका गर्ग का पति ही फर्जी निकला। कनिका ने मुकेश सिसौदिया से शादी की थी परंतु बाद में एक और आधार कार्ड मिला जिसमें उसका नाम मुकेश वर्मा था। इसके बाद विवाद शुरू हो गया। मुकेश ने दहेज की मांग शुरू कर दी और मामला पुलिस थाने के रजिस्टर में दर्ज हो गया। 

पुलिस ने पुष्परत्न पार्क देवगुराड़िया निवासी कनिका गर्ग की शिकायत पर उसके पति मुकेश सिसोदिया के खिलाफ धोखाधड़ी सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज किया है। कनिका ने पुलिस को बताया कि वह एलएलबी की पढ़ाई पूरी करने के बाद मजिस्ट्रेट की परीक्षा में शामिल होने की तैयारी कर रही है। वह पढ़ाई के साथ पिता का ट्रांसपोर्ट का व्यवसाय भी संभालती है। उसने 25 अप्रैल 2018 को मुकेश से लव मैरिज की थी। दोनों की मुलाकात एक साल पहले हुई थी। आरोपित उसके ऑफिस में नौकरी की तलाश में आया था। अनाथ होने का झांसा देकर नौकरी करने लगा था। इसी दौरान दोनों की दोस्ती हुई और फिर बाद में शादी कर ली थी। शादी के बाद से आरोपित ने उसके साथ मारपीट करना शुरू कर दी। 

परेशान होकर करवाचौथ के दिन उसने आरोपित पति के खिलाफ महिला थाने में मारपीट और दहेज में 35 लाख की मांग करने की शिकायत की थी। पुलिस ने आरोपित और उसके परिजन के खिलाफ 29 अक्टूबर को केस दर्ज कर लिया था। इसके बाद भी आरोपित नहीं माना और घर में घुसकर मारपीट की, जिसकी एफआईआर पलासिया थाने में 31 अक्टूबर को दर्ज कराई गई। कनिका ने बताया कि पति के कमरे की छानबीन में पेन व आधार कार्ड मिले थे। इसमें आरोपित का नाम मुकेश वर्मा लिखा था। यहां तक की दोनों में उसकी डेट ऑफ बर्थ अलग थी। उसने दोनों परिचय-पत्र पुलिस को सौंप दिए थे। जांच के बाद पुलिस ने आरोपित के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।