कमलनाथ EXPOSED, 90% मुस्लिम वोट की जुगाड़ कर रहे थे | MP NEWS

Advertisement

कमलनाथ EXPOSED, 90% मुस्लिम वोट की जुगाड़ कर रहे थे | MP NEWS


भोपाल। मोबाइल में कैमरे ने क्रांति ला दी है। नेताओं की बंद कमरे में चलने वाली बातें खुलकर सामने आ रहीं हैं। मध्यप्रदेश चुनाव के दौरान राहुल गांधी मंदिरों पर माथा टेकते नजर आ रहे हैं। दिग्विजय सिंह नर्मदा परिक्रमा करके खुद को सबसे पत्रित हिंदू साबित कर चुके हैं। ज्योतिरादित्य सिंधिया नींबू-मिर्ची की माला पहनकर हिंदुओं के टोटके अपना रहे हैं परंतु कमलनाथ 90% मुस्लिम वोट की जुगाड़ में लगे हैं।

स्टिंग का शिकार हो गए कमलनाथ
एक वीडियो वायरल हुआ है जिसमें कमलनाथ मुस्लिम समाज के प्रतिनिधियों से बात कर रहे हैं। इस दौरान वो मुस्लिम समाज के लोगों को समझा रहे हैं कि मुस्लिम इलाकों में वोट प्रतिशत कम होता है। इसके कारण कांग्रेस सत्ता में नही आ पाती। वो मुस्लिम समाज के प्रतिनिधियों को भड़काने की कोशिश करते हुए कह रहे हैं कि पता करें कि ऐसा क्यों होता है। 

मप्र में कांग्रेस ने कितने मुसलमानों को टिकट दिया
इस वीडियो में कमलनाथ यह चाहते हैं कि 90% मुस्लिम कांग्रेस को वोट दें परंतु यहां एक सवाल भी है। क्या कमलनाथ मुसलमानों को केवल एक वोट बैंक मानते हैं, या फिर वो मुसलमानों के हितैषी भी हैं। इस सवाल का जवाब मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में उम्मीदवारों की लिस्ट देकर मिल जाता है। कांग्रेस ने 230 सीटों में से 229 सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारे हैं और मात्र 3 मुसलमानों को टिकट दिया है। कांग्रेस ने भोपाल उत्तर से वर्तमान विधायक आरिफ अकील, भोपाल मध्य से आरिफ मसूद और सिरोंज से मसर्रत शहीद को टिकट दिया है। 

मध्यप्रदेश में कितने मुस्लिम मतदाता हैं और कितनी सीटों को प्रभावित करते हैं
मध्यप्रदेश में कुल 40 लाख मुस्लिम मतदाता हैं और नरेला, बुरहानपुर, शाजापुर, देवास, रतलाम सिटी, सतना, सागर, ग्वालियर दक्षिण, उज्जैन उत्तर, जबलपुर उत्तर, जबलपुर पूर्व, मंदसौर, रीवा, खंडवा, खरगौन, इंदौर-1 और देपालपुर विधानसभा में मुस्लिम मतदाता परिणाम तय करते हैं।