भारतीय सेना की पाकिस्तान पर तीसरी सर्जिकल स्ट्राइक, PoK में तबाही मचा दी | NATIONAL NEWS

29 October 2018

नई दिल्ली। भारतीय सेना ने पिछले 4 साल में पाकिस्तान पर तीसरी सर्जिकल स्ट्राइक की है। इस बार भी पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में आॅपरेशन किया गया। भारत की सेना पीओके की सीमाओं के भीतर घुसी और आतंकवादियों जिन्हे भारत में पाकिस्तान की सेना कहा जाता है, के ठिकानों पर जबरदस्त हमला किया। इस बार सेना ने पीओके में तबाही मचा दी। सेना ने अभी तक इस कार्रवाई को 'सर्जिकल स्ट्राइक' घोषित नहीं किया है। 

भारतीय सेना ने आतंकियों के लॉन्चिंग पैड को निशान बनाकर बड़ा हमला किया। ये लॉन्चिंग पैड पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में हजीरा और रावलकोट सेक्टर में मौजूद हैं। पाकिस्तान इन्हीं के जरिए भारत में आतंकियों की घुसपैठ कराता है। भारतीय सेना के इस हमले में आतंकियों के कई लॉन्चिंग पैड तबाह हो होने की सूचना है। 

भारत के सेना प्रमुख ने दी थी चेतावनी
बता दें कि पिछले कुछ दिनों से सेना के अधिकारी लगातार पाकिस्तान पर कड़ी कार्रवाई की बात कह रहे थे। गत शुक्रवार को ही सेना प्रमुख बिपिन रावत ने कहा था कि पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज आए, वरना भारतीय सेना के पास सारे विकल्प खुले हुए हैं। पाक की हर नापाक कोशिश का भारतीय सेना माकूल जवाब देगी।

4 साल में भारतीय सेना की तीसरी सर्जिकल स्ट्राइक
पाकिस्तानी आतंकियों ने 18 सितंबर, 2016 को कश्मीर के उड़ी में सैन्य शिविर पर हमला कर करीब 20 सैनिकों को शहीद कर दिया था। उसके बाद 28 सितंबर 2016 की रात को भारतीय सेना ने नौशहरा के कलाल सेक्टर के सामने भिंबर सेक्टर व मेंढर के तत्तापानी सेक्टर के सामने सर्जिकल स्ट्राइक कर कई आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया था। इसके साथ ही कई आतंकी कैंपों को नष्ट कर दिया था।

सितंबर, 2018 में हुई दूसरी सर्जिकल स्ट्राइक
इससे पहले भारत की ओर से सितंबर में पाक के ठिकानों पर हमला किया गया था। भारत की ओर से सर्जिकल स्ट्राइक की तर्ज पर ये दूसरी बड़ी कार्रवाई थी। इस दौरान एक घंटे से भी कम समय में पाकिस्तानी सेना के कई बंकर तबाह करने और लगभग 15 पाकिस्तानी सैनिकों को ढेर करने के बाद भारतीय जांबाज सुरक्षित अपने क्षेत्र में लौट आए। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week