शराब की बोतल पर चुनाव आयोग का विज्ञापन, बेतुके प्रचार में नेताओं से आगे चुनाव आयोग | MP NEWS

21 October 2018

भोपाल। बेतुके प्रचार के लिए अक्सर नेता ही बदनाम होते हैं। चुनाव आयोग भी पार्टियों और नेताओं के विज्ञापनों पर नजर रखता है ताकि कोई विवादित स्थिति ना बने परंतु मध्यप्रदेश के झाबुआ में जिला निर्वाचन अधिकारी ने ही विवादित विज्ञापन अभियान चला डाला। यहां प्रशासन ने शराब के ठेकों पर स्टीकर बांट दिए जो शराब की बोतलों पर चिपकाए गए। इस पर 'मतदान अवश्य करें' अपील थी। 

दरअसल, विधानसभा चुनाव से पहले लोगों को मतदान के लिए प्रेरित करने के लिए झबुआ के जिला प्रशासन ने यहां की सभी शराब की दुकानों पर स्टीकर बांट दिए। इन स्टीकरों को शराब की बोतलों पर लगाकर आम लोगों के बीच पहुंचाने का निर्देश दिया गया, जिसके बाद प्रशासन के इस फैसले की आलोचना शुरू हो गई। वहीं शराब की बोतलों पर लगे वोटर जागरुकता अभियान के स्टीकर की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो गई, जिसके बाद इसकी सूचना सरकारी महकमे तक भी पहुंच गई। 

विरोध के बाद वापस मंगाए गए स्टीकर 

इसके बाद आम लोगों के विरोध और अभियान की आलोचना को ध्यान में रखते हुए झबुआ के जिला प्रशासन ने तत्काल इन सभी स्टीकरों को शराब की दुकानों से वापस मंगा लिया। इस बारे में बात करते हुए झबुआ के एक्साइज अधिकारी ने कहा कि जिला प्रशासन ने बड़े स्तर पर चल रहे मतदाता जागरुकता अभियान के क्रम में शराब की बोतलों पर भी स्टीकर लगाकर लोगों को जागरुक करने की कोशिश की थी, लेकिन फिलहाल इस अभियान को रोकने का फैसला किया गया है। इसके अलावा जारी किए गए सभी स्टीकरों को दुकानदारों से वापस ले लिया गया है। गौरतलब है कि मध्य प्रदेश की 230 सीटों पर 28 नवंबर को वोट डाले जाने हैं। प्रदेश में चुनाव के नतीजे 11 दिसंबर को आ जाएंगे। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week